चीन कच्चे माल के आयात के चलते महंगी हुई भारत के लिए चिकित्सा आपूर्ति: चीन

हांगकांग में भारत की महावाणिज्य दूत प्रियंका चौहान ने हाल में चीन ने चिकित्सा आपूर्ति की कीमतों में बढ़ोतरी रोकने के लिए कहा था.

चीन कच्चे माल के आयात के चलते महंगी हुई भारत के लिए चिकित्सा आपूर्ति: चीन

प्रतीकात्मक तस्वीर.

बीजिंग:

चीन ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय कंपनियों द्वारा चीनी विनिर्माताओं से खरीदी जाने वाली ऑक्सीजन कंसंट्रेटर जैसी कुछ कोविड-19 चिकित्सा आपूर्ति इसलिए महंगी हो गई है क्योंकि उन्हें भारत की मांग पूरी करने के लिए कच्चे माल का आयात करना पड़ रहा है. हांगकांग में भारत की महावाणिज्य दूत प्रियंका चौहान ने हाल में चीन ने चिकित्सा आपूर्ति की कीमतों में बढ़ोतरी रोकने के लिए कहा था. इस पर टिप्पणी करते हुए चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि चीन भारत की मांग को पूरा करने के लिए अपनी कंपनियों को प्रोत्साहित कर रहा है. चौहान ने इस सप्ताह कहा था कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटरों जैसी चिकित्सा आपूर्ति की कीमतों में बढ़ोतरी और भारत के लिए मालवाहक उड़ानों के बाधित होने की वजह से चिकित्सा सामानों की आवक धीमी हो रही है.

वुहान लैब से कोरोना वायरस बाहर आने की धारणा की और जांच होनी चाहिए, प्रमुख वैज्ञानिकों ने की मांग

चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने कहा कि चीनी विनिर्माताओं की प्रतिक्रिया से पता चलता है कि उन्हें भारत की अतिरिक्त मांग को पूरा करने के लिए कच्चे माल का आयात करना पड़ रहा है. हुआ ने कहा, ‘‘उदाहरण के तौर पर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की मांग भारत में कुछ ही समय में कई गुना बढ़ गई है और कच्चे माल की भी कमी है.'' मालवाहक उड़ानों के बाधित होने के बारे में हुआ ने कोई सीधा जवाब नहीं दिया, लेकिन कहा कि बीजिंग औद्योगिक आपूर्ति श्रृंखलाओं को खुला रखने ने लिए प्रतिबद्ध है.

वुहान लैब से कोरोना वायरस बाहर आने की धारणा की और जांच होनी चाहिए, प्रमुख वैज्ञानिकों ने की मांग

उन्होंने कहा, ‘‘चीन वैश्विक औद्योगिक और आपूर्ति श्रृंखलाओं को सुचारू बनाने के लिए प्रतिबद्ध है और वह उम्मीद करता है कि सभी पक्ष वैश्विक औद्योगिक स्थिरता सुनिश्चित करेंगे और राजनीतिक उद्देश्यों के लिए इन श्रृंखलाओं के खुलेपन को बाधित करने के बजाय मिलकर काम करेंगे.''


चीन है भारत पर साइबर हमला करने में सक्षम : जनरल बिपिन रावत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)