विज्ञापन
Story ProgressBack

PM मोदी के थर्ड टर्म से कनाडाई PM जस्टिन ट्रूडो के बदले सुर, गंभीर मुद्दों पर बातचीत की जताई इच्छा

बीते साल कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो ने संसद में खालिस्तानी नेता हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के पीछे भारतीय एजेंसियों के हाथ होने की आशंका जताई थी. भारत ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था. तब से दोनों देशों के रिश्ते तनावपूर्ण हैं.

PM मोदी के थर्ड टर्म से कनाडाई PM जस्टिन ट्रूडो के बदले सुर, गंभीर मुद्दों पर बातचीत की जताई इच्छा
इटली में आयोजित हुए G-7 समिट से इतर कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुलाकात हुई थी.
टोरंटो:

नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो के सुर बदल गए हैं. जस्टिन ट्रूडो ने उम्मीद जताई कि तीसरी बार भारत की सत्ता संभालने के बाद भारत और कनाडा के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा, कनाडाई लोगों के हित और कानून के शासन से जुड़े गंभीर मुद्दों पर बातचीत फिर से शुरू हो सकती है. बता दें कि खालिस्तानी मुद्दे को लेकर बीते साल से भारत और कनाडा के रिश्ते तनावपूर्ण हो गए थे.

जस्टिन ट्रूडो ने CBC News के साथ इंटरव्यू में ये बातें कही. उन्होंने कहा, "कई बड़े मुद्दों पर समानता है. इन पर हमें ग्लोबल कम्युनिटी के रूप में साथ मिलकर काम करने की जरूरत है." ट्रूडो ने कहा, "लेकिन अब जब वह (पीएम मोदी) चुनावी दौर से गुजर चुके हैं, तो मुझे लगता है कि हमें हमारे मुद्दों पर बात करनी चाहिए."

विदेश मंत्री जयशंकर ने साधा कनाडा पर निशाना, बोले-अभिव्यक्ति की आजादी का नहीं किया जा सकता दुरुपयोग

बीते साल कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो ने संसद में खालिस्तानी नेता हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के पीछे भारतीय एजेंसियों के हाथ होने की आशंका जताई थी. भारत ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था. भारत ने नई दिल्ली में मौजूद कनाडा के एक डिप्लोमैट को भी पांच दिन में देश छोड़ने के लिए कह दिया. भारत ने कनाडा को खालिस्तान समर्थकों के लिए एपीसेंटर बनने पर चिंता जाहिर की थी. हालांकि, कनाडा ने इसे अस्वीकार कर दिया था.

ट्रूडो का बयान ऐसे समय में आया, जह 13 से 15 जून तक इटली में आयोजित हुए G-7 समिट से इतर उनकी पीएम नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात हुई थी. मोदी ने ट्रूडो के साथ एक फोटो भी X हैंडल पर शेयर की थी. पीएम मोदी ने जहां जर्मन चांसलर ओल्फ शोल्ज, जापानी पीएम फुमियो किशिदा और इटली की प्रधानमंत्री जॉर्जिया मेलोनी के साथ मुलाकात पर डिटेल में कैप्शन लिखा था. वहीं, ट्रूडो के साथ फोटो पर महज एक लाइन में कैप्शन दिया गया था.

न मेल तय था न मुलाकात... जब मोदी ने कनाडा के PM ट्रूडो को दिया 'सरप्राइज'

दूसरी ओर, जस्टिन ट्रूडो ने भारत में लोकसभा चुनाव जीतने पर पीएम मोदी को बधाई दी थी. उन्होंने X पर लिखा था, "भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनकी चुनावी जीत पर बधाई. कनाडा मानवाधिकारों, विविधता और कानून के शासन पर आधारित संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए उनकी सरकार के साथ काम करने के लिए तैयार है."

पीएम मोदी ने ट्रूडो को जवाब में लिखा, "बधाई संदेश के लिए कनाडा के पीएम को शुक्रिया. भारत आपसी समझ और एक-दूसरे की चिंताओं के सम्मान के आधार पर कनाडा के साथ काम करने के लिए उत्सुक है." 

नमस्ते करने से सेल्फी तक... देखें PM मोदी और इटली की प्रधानमंत्री जॉर्जिया मेलोनी की मुलाकात की तस्वीरें

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
रूस की सबसे खूबसूरत बाइकर की सड़क हादसे में मौत, सोशल मीडिया पर 2 मिलियन से ज्यादा फॉलोअर्स
PM मोदी के थर्ड टर्म से कनाडाई PM जस्टिन ट्रूडो के बदले सुर, गंभीर मुद्दों पर बातचीत की जताई इच्छा
Analysis : क्या नफा, क्या नुकसान? ब्रिटेन में सरकार बदलने से क्या पड़ेगा भारत पर असर
Next Article
Analysis : क्या नफा, क्या नुकसान? ब्रिटेन में सरकार बदलने से क्या पड़ेगा भारत पर असर
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;