“मां... उठो”: काबुल बम धमाके के बाद खून से लथपथ बच्चों की पुकार, VIDEO वायरल

ट्विटर पर एजाज मलिकजादा नाम के एक यूजर ने वीडियो ट्वीट करते हुए कहा है कि इस मां और उसके दोनों बच्चों को देखना मेरे लिए काफी असहनीय था.

“मां... उठो”: काबुल बम धमाके के बाद खून से लथपथ बच्चों की पुकार, VIDEO वायरल

काबुल में शनिवार को तीन अलग-अलग विस्फोटों में कम से कम पांच व्यक्तियों की मौत हुई है

काबुल:

काबुल बम विस्फोट (Kabul Blast) का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल (Viral Video) हो रहा है, जिसको लेकर लोगों में और भी गुस्सा बढ़ गया है. वीडियो बम विस्फोट (Kabul Blast Video) के समय की है, जिसमें एक बेहोश महिला के सामने उसके दो बच्चे खून से लथपथ खड़े हैं और रो रहे हैं. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में कई शवों को खून से लथपथ या क्षत-विक्षत हालत में देखा जा सकता है. सबसे ज्यादा गुस्सा लोगों में वीडियो के उस हिस्से को देखकर आ रहा है, जिसमें बेहोश पड़ी मां के सामने खून से लथपथ खड़े उसके दो बच्चे लगातार रो रहे हैं. वीडियो में रोते हुए बच्चे मां को लगातार पुकार रहे हैं. वे दोनों अपनी मां को उठाने की कोशिश कर रहे हैं. इसके बाद वीडियो में बेहोश महिला को सुरक्षाकर्मियों द्वारा ले जाया जा रहा है. इस बीच वीडियो बनाने वाला शख्स रोते हुए बच्चों को चुप कराने की कोशिश कर रहा है. यह वीडियो अपलोड करते ही कुछ ही देर में दारी भाषा में हैशटैग “मां उठो” ("Mother, get up!") से ट्रेंड करने लगा. इस वीडियो को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं.

अफगानिस्तान-ईरान बॉर्डर पर आग से तबाह हुए 500 ऑयल टैंकर, सैटेलाइट तस्वीरों में दिखा ऐसा नजारा

ट्विटर पर एजाज मलिकजादा नाम के एक यूजर ने वीडियो ट्वीट करते हुए कहा है कि इस मां और उसके दोनों बच्चों को देखना मेरे लिए काफी असहनीय था. वहीं, तालिबान के साथ बातचीत कर रही सरकार की शांति समूह की सदस्य फवजिया कोफी ने कहा, “जो लोग इस तरह के हमले करते हैं, वे इसे अपनी आत्मा के सामने कैसे जायज ठहरा पाते हैं? जब आप किसी घायल मां के सामने उसके दो बच्चों को रोते हुए देखते हैं. इस मामले में काबुल पुलिस ने पुष्टि की है कि अब दोनों बच्चे सुरक्षित हैं. दोनों बच्चों को हल्की चोटें आई थीं. लेकिन महिला गंभीर रूप से घायल हो गई थी. उसका इलाज किया जा रहा है. काबूल पुलिस के मुताबिक, अभी तक किसी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. लेकिन अफगान सुरक्षाबलों को हमेशा से ही तालिबान द्वारा निशाना बनाया जाता रहा है. वहीं, इस हमले में तालिबान ने किसी भी संलिप्तता से इनकार किया है.


पाक-अफगानिस्तान के ड्रग्स तस्करों ने बदला रूट, अफ्रीका के रास्ते हवाई मार्ग से बढ़ा धंधा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि, अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में शनिवार को तीन अलग-अलग विस्फोटों में कम से कम पांच व्यक्तियों की मौत हो गई थी और दो अन्य घायल हो गए थे. हाल के महीनों में राजधानी काबुल में हुए बम हमलों में से अधिकतर में चुंबक का इस्तेमाल करते हुए उन्हें वाहनों में लगा दिया जाता है और फिर उनमें रिमोट कंट्रोल या टाइमर द्वारा विस्फोट किया जाता है. दूसरे विस्फोट में उत्तर-पश्चिमी काबुल के एक इलाके में एक कार को निशाना बनाया गया जिसमें राष्ट्रीय सेना के सैनिक यात्रा कर रहे थे. धमाके में दो सैनिक मारे गए. इसमें वहां से गुजर रहा एक राहगीर भी मारा गया. तीसरे विस्फोट में पश्चिमी काबुल में पुलिस की एक कार को निशाना बनाया गया जिसमें दो पुलिस अधिकारी मारे गए. इस बीच, पहले विस्फोट में एक नागरिक कार को निशाना बनाया गया, जिससे यात्री वाहन के अंदर बैठे दो लोग घायल हो गए. काबुल पुलिस ने कहा कि जांच चल रही है.