इजरायली गोलीबारी में फलीस्तीनी नागरिक की मौत, वेस्ट बैंक में फिर अशांति : रिपोर्ट

फिलीस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि मोहम्मद फरीद हसन, जो 20 साल का था, इजरायल की गोलियों से नब्लस शहर के पास अपने गांव कुसरा में मारा गया, जबकि इस घटना में दो अन्य घायल हो गए हैं.

इजरायली गोलीबारी में फलीस्तीनी नागरिक की मौत, वेस्ट बैंक में फिर अशांति : रिपोर्ट

इजरायल की तरफ से की गई गोलीबारी से एक फिलीस्तीनी नागरिक की मौत हो गई. (सांकेतिक तस्वीर)

रामल्ला, फिलीस्तीन:

इजरायल औऱ फलस्तीन (Palestine Israel Violence) के बीच हिंसा फिर भड़क उठी है. फलीस्तीन के वेस्ट बैंक में शनिवार को इजरायल की तरफ से की गई गोलीबारी से एक फिलीस्तीनी नागरिक की मौत हो गई. फिलीस्तीनी अधिकारियों ने इजरायल द्वारा की गई इस कार्रवाई को फिलीस्तीनियों और यहूदियों के बीच "हिंसक टकराव" के रूप में वर्णित किया है. इससे संघर्ष विराम समझौता टूटने के साथ खूनखराबे का फिर से दौर शुरू होने की आशंका है.अशांति के बीच इजरायली सेना के एक बयान ने मौत की पुष्टि नहीं की, लेकिन कहा कि सैनिकों ने एक संदिग्ध व्यक्ति पर गोलीबारी की थी, जिसने "सैनिकों पर एक संदिग्ध वस्तु फेंका था, जिससे विस्फोट" हुआ था.

फिलीस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि मोहम्मद फरीद हसन, जो 20 साल का था, इजरायल की गोलियों से नब्लस शहर के पास अपने गांव कुसरा में मारा गया, जबकि इस घटना में दो अन्य घायल हो गए हैं.

आधिकारिक समाचार एजेंसी वफ़ा की एक रिपोर्ट में कहा गया है, "हसन अपने घर की छत पर खड़ा था, तभी गोली दागकर उसकी हत्या कर दी गई." वफ़ा के अनुसार, फ़िलीस्तीनी, क़ुसरा गाँव में बसने वाले कट्टर इज़राइली के हमलों को रोक रहे थे."

जो बाइडेन ने सुझाए 'दो राज्य समाधान', कहा- इजरायल के साथ फिलीस्तीनी राज्य बनाना "एकमात्र उत्तर"


इज़राइल की सेना ने कहा: "दस से ज्यादा फिलीस्तीनियों और इजरायली नागरिकों के बीच नब्लस के दक्षिण में कुसरा गांव में एक हिंसक टकराव,  हुआ है, जिसके दौरान दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर पत्थर फेंके हैं. मौके पर मौजूद सैनिकों ने दंगा फैलाने के साधनों का उपयोग करके क्षेत्र से दोनों पक्षों को दूर करने के लिए ऑपरेशन किया."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बयान में कहा गया, "इस गतिविधि के दौरान, एक संदिग्ध व्यक्ति की पहचान सैनिकों पर संदिग्ध वस्तु फेंकते हुए की गई, जो विस्फोट कर गई थी. इसके जवाब में गोलीबारी की गई." हालांकि, इजरायल ने इस गोलीबारी से हुई मौत की बात नहीं कही.