लखीमपुर में मारे गए किसानों के लिए अरदास में प्रियंका गांधी समेत जुटे नेता और हजारों की संख्या में किसान

प्रियंका गांधी ने जमीन पर बैठकर अरदास के मंच पर रखे गुरु ग्रंथ साहिब के आगे मत्था टेका. और फिर मंच के सामने नीचे बैठी रही

लखीमपुर में मारे गए किसानों के लिए अरदास में प्रियंका गांधी समेत जुटे नेता और हजारों की संख्या में किसान

लखनऊ:

लखीमपुर खीरी में मारे गए किसानों के अरदास में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, आरएलडी अध्यक्ष जयंत चौधरी समेत हजारों की तादाद में किसान शामिल हुए. किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि पुलिस स्कूटर चोरी करने वाले के पैर में गोली मार देती है लेकिन किसानों की हत्या के मुल्ज़िम को गिरफ्तार करने को तैयार नहीं थी और गिरफ्तार किया तो उसकी रेड कारपेट गिरफ्तारी की. 

प्रियंका गांधी ने जमीन पर बैठकर अरदास के मंच पर रखे गुरु ग्रंथ साहिब के आगे मत्था टेका. और फिर मंच के सामने नीचे बैठी रही. आरएलडी के अध्यक्ष जयंत चौधरी भी किसानों को श्रद्धांजलि देने आए. उन्होंने भी समर पर किसानों से नाइंसाफी करने का आरोप लगाया. जयंत चौधरी ने कहा, 'हमारी मानवता इतनी गिर चुकी है. सरकार में जो नरमी आनी चाहिए वो दिखाई नहीं दे रही है.'


अरदास में आये किसान नेता राकेश सिंह टिकैत ने कहा कि इतने बड़े कांड के बाद भी सरकार किसानों के खिलाफ है. उनके इंसाफ की लड़ाई तब तक जारी रहेगी, जब तक गृह राज्य मंत्री का इस्तीफा नहीं हो जाता.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अब तमाम जांगह बीजेपी के हिमायती सिख नेताओं की तरफ से ऐसे हॉर्डिंग्स लगाए गए थे, जिनमें प्रियंका और राहुल गांधी की तरफ इशारा कर के 1984 के सिख दंगों को याद दिलाया गया है और लिखा है कि सिखों को उनकी झूठी सहानुभूति नहीं चाहिए. लेकिन अरदास के मंच से उसकी निंदा की गई.