'Saraswati' - 65 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Edited by: पवन पांडे |बुधवार मार्च 31, 2021 12:33 AM IST
    साल 2010-2019 की अवधि में प्रकाशित पुस्तकों पर विचार करने के बाद साल 2020 के सरस्वती सम्मान के लिए मराठी के प्रतिष्ठित साहित्यकार डॉक्टर शरण कुमार लिंबाले के उपन्यास 'सनातन' को चुना गया है. अब तक जिन साहित्यकारों को सरस्वती सम्मान मिला हैं उनमें हरिवंश राय बच्चन (1991), रमाकांत रथ (1992), प्रो. के. अय्यप्प पणिक्कर (2005), गोविंद मिश्र (2013), डॉक्टर एम.वीरप्पा मोइली (2014) समेत अन्य शामिल हैं. 
  • Blogs | प्रियदर्शन |गुरुवार अप्रैल 8, 2021 10:18 AM IST
    ज़ख़्मों के लिए पुरस्कार और उस पर ताली बजाना कोई बेहतर मानवीय उपक्रम नहीं है. इसलिए मराठी लेखक शरण कुमार लिंबाले के उपन्यास 'सनातन' पर 15 लाख रुपये के सरस्वती सम्मान की घोषणा को उस तरह नहीं देखना चाहिए जिस तरह हम सभी पुरस्कारों को देखते हैं.
  • India | Reported by: भाषा |बुधवार फ़रवरी 17, 2021 07:04 AM IST
    पश्चिम बंगाल के हुगली जिले में पाए गए एक पोस्टर को लेकर विवाद शुरू हो गया, जिसमें लोगों को चेतावनी दी गई है कि सरस्वती पूजा के शुभ अवसर को वैलेंटाइन डे मानने की गलती न करें और इस दिन घूमते पाए जाने वाले प्रेमी जोड़ों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. लंबे समय से, राज्य भर में शिक्षण संस्थानों में देवी सरस्वती पूजा करने के बाद छात्र-छात्राएं इस दिन एक साथ समय बिताते हुए देखे जाते हैं.
  • Faith | Written by: नेहा फरहीन |मंगलवार फ़रवरी 16, 2021 10:50 AM IST
    Basant Panchami Wishes 2021: मां सरस्वती (Maa Saraswati) के जन्मदिवस का पर्व बसंत पंचमी (Basant Panchami) इस बार 16 फरवरी को मनाया जा रहा है. इस दिन स्कूलों, शिक्षण संस्थानों और घरों में सरस्वती माता की पूजा (Saraswati Puja) की जाती है. बसंत पंचमी नए सुहावने मौसम का प्रतीक है. इस दिन से कड़कड़ाती ठंड खत्म हो जाती है, खेतों में सरसों के पीले फूलों से सारा माहौल पीले रंग में रंग जाता है. पेड़-पौधों पर नए फूल-पत्तियां आने से जान आ जाती है. हर तरफ मौसम सुहावना होने लगता है.
  • India | Edited by: पवन पांडे |मंगलवार फ़रवरी 16, 2021 10:27 AM IST
    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बसंत पंचमी और सरस्वती पूजा के अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं दीं. उनके अलावा राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने भी बधाई दी है. हर वर्ष माघ माह की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को शिक्षा की देवी सरस्वती की पूजा की जाती है. इस दिन को बसंत पचंमी के नाम से भी जाना जाता है. बसंत पंचमी के त्योहार के साथ ही बसंत के मौसम की शुरुआत होती है.
  • features | Written by Aradhana Singh |मंगलवार फ़रवरी 16, 2021 09:51 AM IST
    Basant Panchami Special 2021: आज देश भर में बसंत पंचमी का पर्व धूम-धाम से मनाया जा रहा है. शास्त्रों में बसंत पंचमी को ऋषि पंचमी के नाम से भी जाना जाता है. यह तो सभी जानते हैं कि विद्या से बढ़कर कोई धन नहीं है. और यह भी कहा जाता है कि जिस पर मां सरस्वती की कृपा होती है, उस पर मां लक्ष्मी भी अपनी कृपा बरसाती हैं.
  • Faith | Written by: नेहा फरहीन |मंगलवार फ़रवरी 16, 2021 04:45 PM IST
    Basant Panchami 2021: बसंत पंचमी (Basant Panchami) का त्‍योहार उत्तर भारत में धूमधाम से मनाया जाता है. बसंत पंचमी के दिन व‍िद्या की देवी सरस्‍वती का जन्‍म हुआ था इसलिए इस दिन सरस्‍वती पूजा (Saraswati Puja) का व‍िधान है. इस दिन कई लोग प्रेम के देवता काम देव की पूजा भी करते हैं. किसानों के लिए इस त्‍योहार का विशेष महत्‍व है. बसंत पंचमी पर सरसों के खेत लहलहा उठते हैं. चना, जौ, ज्‍वार और गेहूं की बालियां ख‍िलने लगती हैं. इस दिन से बसंत ऋतु का प्रारंभ होता है. यूं तो भारत में छह ऋतुएं होती हैं लेकिन बसंत को ऋतुओं का राजा कहा जाता है. इस दौरान मौसम सुहाना हो जाता है और पेड़-पौधों में नए फल-फूल पल्‍लवित होने लगते हैं. 
  • Faith | Written by: नेहा फरहीन |मंगलवार फ़रवरी 16, 2021 10:20 AM IST
    Basant Panchami 2021: हिन्‍दू पंचांग के अनुसार, बसंत पंचमी का त्‍योहार हर साल माघ मास शुक्‍ल पक्ष की पंचमी को मनाया जाता है. बसंत पंचमी (Basant Panchami 2021) का त्योहार इस साल 16 फरवरी को है. उत्तर भारत के कई राज्यों में बसंत पंचमी को श्री पंचमी (Shri Panchami), वसंत पंचमी (Vasant Panchami) और सरस्वती पंचमी (Saraswati Panchami) के नाम से भी जाना जाता है. हिंदू मान्यताओं के अनुसार बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती का जन्म हुआ था और इस वजह से इस दिन उनकी पूजा का विधान है. सरस्वती को ज्ञान, कला और संगीत की देवी माना जाता है. 
  • Faith | Written by: संज्ञा सिंह |शनिवार फ़रवरी 13, 2021 04:53 PM IST
    Basant Panchami 2021: बसंत पंचमी (Basant Panchami 2021) का त्‍योहार उत्तर भारत में धूमधाम से मनाया जाता है. बसंत पंचमी के दिन विद्या की देवी सरस्‍वती का जन्‍म हुआ था इसलिए इस दिन सरस्‍वती पूजा (Saraswati Puja 2021) का विधान है. इस दिन कई लोग प्रेम के देवता काम देव की पूजा भी करते हैं.
  • Zara Hatke | Written by: मोहित चतुर्वेदी |बुधवार जनवरी 6, 2021 03:27 PM IST
    सोशल मीडिया (Social Media) पर एक खूबसूरत वीडियो वायरल (Viral Video) हो रहा है, जिसको देखकर आपके चेहरे पर भी मुस्कान आ जाएगी. मोरों का झुंड मां सरस्वती की मूर्ति की परिक्रमा (Peacock doing Parikrama of Mata Saraswati) करता दिखा.
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com