'Jauhar university' - 9 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • Uttar Pradesh | शनिवार मार्च 7, 2020 06:04 PM IST
    सरकारी सूत्रों का दावा है कि जौहर विश्वविद्यालय में सरकार का धन लगा हुआ है. छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए सरकार जौहर विश्वविद्यालय को टेकओवर कर सकती है. सूत्रों के अनुसार, सरकार इस विश्वविद्यालय में प्रशासक नियुक्त कर सकती है.
  • Uttar Pradesh | गुरुवार जनवरी 23, 2020 12:30 PM IST
    प्रयागराज स्थित रेवेन्यू बोर्ड में सरकारी वकील दीपक सक्सेना ने कहा, 'उत्तर प्रदेश जमींदारी उन्मूलन और भूमि सुधार अधिनियम के तहत छोटे दलित भूस्वामी अपनी जमीन गैर-अनुसूचित जाति के व्यक्ति के नाम स्थानांतरित नहीं कर सकते हैं. अगर वे ऐसा करते हैं तो इसके लिए उन्हें जिला प्रशासन से अनुमति लेनी होती है. वरिष्ठ सपा नेता आजम खान द्वारा संचालित जौहर ट्रस्ट ने ऐसी कोई अनुमति नहीं ली थी.'
  • Uttar Pradesh | बुधवार सितम्बर 25, 2019 07:33 PM IST
    समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता आजम खान (Azam Khan) को इलाहाबाद हाई कोर्ट से बड़ी राहत मिली है. हाई कोर्ट ने बुधवार को मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय (Mohammad Ali Jauhar University) से संबंधित सभी भूमि मामलों पर अगले आदेश तक आजम के खिलाफ लगाई एफआईआर पर रोक लगा दी है.
  • Uttar Pradesh | मंगलवार सितम्बर 3, 2019 04:38 PM IST
    समाजवादी पार्टी (SP) के सांसद आज़म खान (Azam Khan) के खिलाफ मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी भूमि मामले से जुड़े केस दर्ज किए जाने पर पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने इसे साजिश करार दिया.
  • India | गुरुवार अगस्त 1, 2019 10:30 PM IST
    समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान (Azam Khan) की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने कथित रूप से जमीन हथियाने के अलग-अलग मामलों में आजम खान के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया है.
  • Uttar Pradesh | बुधवार जुलाई 31, 2019 05:54 PM IST
    समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान (Azam Khan) के परिवार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. एक दिन पहले आजम खान पर किताब चोरी का इल्ज़ाम लगा और अब उनके विधायक बेटे अब्दुल्ला आजम को पुलिस ने जिला प्रशासन की कार्रवाई में रुकावट डालने के आरोप में बुधवार को हिरासत में लिया है.
  • India | मंगलवार जुलाई 30, 2019 09:25 PM IST
    समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान पर अब किताब चोरी का इल्ज़ाम लगा है. रामपुर में पुलिस ने आज उनकी जौहर यूनिवर्सिटी की लाइब्रेरी पर रेड की. पुलिस काफी किताबें अपने साथ ले गई और चार लोगों को हिरासत में ले लिया. रामपुर में मदरसा आलिया नाम का नवाबों के जमाने का मदरसा था. इस मदरसे की इमारत आजम खान ने जौहर ट्रस्ट के नाम एलाट करा ली थी और मदरसा बंद करा दिया था. मदरसे के प्रिंसिपल ज़ुबेर खान ने 16 जून को मदरसे की दुर्लभ किताबों और पुरानी मेन्युस्क्रिप्ट्स (पांडुलिपियां) की चोरी की एफआईआर लिखवाई थी.
  • Uttar Pradesh | शनिवार जुलाई 27, 2019 11:49 AM IST
    एक ओर जहां आजम खान के जौहर विश्वविद्यालय के लिए पट्टे पर दी गई 150 बीघा जमीन का आवंटन रद्द हुआ है वहीं विश्वविद्यालय की ही 65 एकड़ जमीन को सरकार को वापस देने का आदेश जारी हुआ है. इस जमीन को 'शत्रु संपत्ति' बताई गई है.मिली जानकारी के मुताबिक  रामपुर में जौहर विश्वविद्यालय के पास 65 एकड़ जमीन इमामुद्दीन नाम के एक शख्स की थी जो बंटवारे के बाद पाकिस्तान चले गए थे. उनकी यह जमीन शत्रु संपत्ति के तौर पर कस्टोडिय़न में दर्ज हो गई थी. आजम खान के ऊपर आरोप है कि उन्होंने यह जमीन रिकॉर्ड में हेराफेरी करके विश्वविद्यालय में शामिल कर ली थी. वहीं जब राजनाथ सिंह गृहमंत्री थे तो यह जमीन बीएसएफ को दो दी गई थी. रामपुर में बीएसएफ का बेस है. जब बीएसएफ के अधिकारी जमीन का पजेशन लेने के लिए वहां जाते तो जिला प्रशासन उनको टरका देता और बीएसएफ को पजेशन नहीं मिल पाया.
  • Uttar Pradesh | शनिवार जुलाई 27, 2019 03:23 PM IST
    सपा नेता और रामपुर सांसद आजम खान को एक बार फिर करारा झटका लगा है इस बार आजम खान के जौहर ट्रस्ट को लीज पर दी गई 7.135 हेक्टेयर(150 बीघा लगभग) जमीन के पट्टे को रद्द करने की कार्रवाई की गई है. पट्टा रद्द किए जाने की कार्रवाई एसडीएम सदर कोर्ट से की गई है. इस के संबंध में सरकारी अधिवक्ता अजय तिवारी ने बताया कि यह जमीन शासन द्वारा मोहम्मद जौहर अली ट्रस्ट के संयुक्त सचिव नसीर खान को 24 जून 2013 को गवर्नमेंट ग्रांट एक्ट के तहत पट्टे पर दी गई थी. यह पट्टा 30 साल के लिए हुआ था जबकि इस जमीन की मूल श्रेणी रेत में दर्ज थी. चूंकि रेत की जमीन का पट्टा नहीं होना चाहिए था फिर ऐसा कर दिया गया. इस संबंध में तहसीलदार द्वारा रिपोर्ट की गई. अब उपजिलाधिकारी सदर ने इस जमीन की मूल श्रेणी यानी रेत में दर्ज करने के आदेश दे दिए. जिसके चलते यह पट्टा निरस्त कर दिया गया है और जमीन को मूल श्रेणी रेत में दर्ज करने के आदेश किए गए हैं.  
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com