अरविंद केजरीवाल ने सुनाई युवक की कहानी, '24 साल की उम्र में मोदी जी को दिया था वोट, न नौकरी लगी, न शादी हुई'

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने टि्वटर पर युवक की कहानी सुनाई है.

अरविंद केजरीवाल ने सुनाई युवक की कहानी, '24 साल की उम्र में मोदी जी को दिया था वोट, न नौकरी लगी, न शादी हुई'

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल. (File Photo)

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (AAP) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने टि्वटर पर एक युवक की कहानी सुनाते हुए पीएम मोदी (PM Modi) पर निशाना साधा है. सोमवार को ट्वीट करते हुए केजरीवाल ने उस युवक की कहानी सुनाई. केजरीवाल ने टि्वटर पर लिखा है, '29 साल का एक लड़का मिला. 24 साल की उम्र में उसने मोदी जी को वोट दिया था क्योंकि मोदी जी ने कहा था नौकरी देंगे. अभी तक बेरोजगार है. ना नौकरी लगी, ना शादी हो रही. एक बार और मोदी जी को वोट दे दिया तो अगली बार तक 34 का हो जाएगा. तब तक बहुत देर हो जाएगी. इस बार दोबारा गलती मत करना. 

लोकसभा चुनाव को लेकर अरविंद केजरीवाल लगातार भाजपा और कांग्रेस दोनों पर निशाना साध रहे हैं. हालांकि, गौर करने वाली बात यह है कि अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस के साथ गठबंधन के लिए भी गुजारिश की थी. लेकिन कांग्रेस ने गठबंधन करने से मना कर दिया. सूत्रों की माने तो गठबंधन को लेकर अभी भी कांग्रेस विचार कर रही है. 

क्या सातवें उम्मीदवार की घोषणा के साथ AAP ने कांग्रेस से गठबंधन के सभी दरवाजे कर लिए बंद? जानिये गोपाल राय ने क्या दिया जवाब

हालही केजरीवाल ने आतंकवाद पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रूख की तारीफ से जुड़े कांग्रेस नेता शीला दीक्षित के एक कथित बयान का हवाला देते हुये कहा है कि कांग्रेस और भाजपा में कुछ खिचड़ी पक रही है. आतंकवाद पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की तुलना में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रुख को सख्त बताने वाले दीक्षित के कथित बयान के हवाले से केजरीवाल ने कहा था, ‘शीला जी का ये बयान वाक़ई चौंकाने वाला है. भाजपा और कांग्रेस में कुछ तो खिचड़ी पक रही है.'

हालांकि, दीक्षित ने इस बयान से पल्ला झाड़ते हुये कहा कि संबंधित मीडिया रिपोर्टों में उनकी बात को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है. मीडिया रिपोर्टों के अनुसार दीक्षित ने एक इंटरव्यू में कहा गया है कि, ‘आतंकवाद से निपटने में मनमोहन सिंह उतने सख्त नहीं थे जितने वर्तमान प्रधानमंत्री हैं.'

दिल्ली और हरियाणा में यह सर्वे करवा सकता है AAP-कांग्रेस में गठबंधन, नेताओं का बदल डाला रुख

दिल्ली में गठबंधन से मना करने के बाद केजरीवाल ने कांग्रेस से हरियाणा में गठबंधन को लेकर गुजारिश की थी. हालांकि, कांग्रेस की ओर से उस पर कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं आई है. लेकिन सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस ने एक सर्वे करवाया था, जिसके बाद कांग्रेस नेताओं की गठबंधन को लेकर राय बदल गई है. अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आम आदमी पार्टी से गठबंधन पर फैसला करेंगे.

मनमोहन सिंह पर शीला दीक्षित के बयान को लेकर अरविंद केजरीवाल ने कसा तंज, कही यह बात


VIDEO- केजरीवाल के खिलाफ बीजेपी की साइकिल रैली, AAP ने बनाया ऑटो को हथियार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com