Navratri के व्रत में क्यों करना चाहिए मिलेट्स को शामिल, जानिए सेहत को Millets से मिलने वाले फायदों के बारे में 

Millets in Navratri Fast: नवरात्रि के व्रत में मिलेट्स का सेवन किया जा सकता है. यह पोषण से भरपूर होते हैं और सेहत को दूरुस्त रखते हैं. 

Navratri के व्रत में क्यों करना चाहिए मिलेट्स को शामिल, जानिए सेहत को Millets से मिलने वाले फायदों के बारे में 

Navratri Fast Diet: इस तरह नवरात्रि डाइट में शामिल करें मिलेट्स. 

Navratri 2022: नवरात्रि में व्रत के दौरान लोग कुछ गिनी-चुनी चीजों को ही खानपान का हिस्सा बनाते हैं. माना आप इस दौरान बहुत ज्यादा चीजें नहीं खाते और ना ही खाने पर जरूरत से ज्यादा ध्यान देना व्रत (Navratri Fast) का मकसद है, लेकिन आप उन चीजों को तो खा ही सकते हैं जिनमें पोषक तत्वों की मात्रा ज्यादा हो. पोषक तत्व ज्यादा होंगे तो आपको कम मात्रा में भी पूरी एनर्जी मिलेगी और बार-बार भूख का एहसास भी नहीं होगा ना ही आप कमजोर या बीमार पड़ेंगें. मिलेट्स (Millets) ऐसे ही कुछ बीजों का समूह होते हैं जो पोषण से भरपूर हैं और व्रत में खाए जाते हैं जैसे राजगीर, कुट्टू, कुटकी आदि. आइए जानते हैं ये व्रत के दौरान किस तरह खाए जाते हैं और इनसे शरीर को कौन-कौनसे फायदे मिलते हैं. 

एक्सपर्ट से जानिए क्यों हेयर ट्रांसप्लांट करवाना हो सकता है खतरनाक, कुछ बातों का ध्यान रखना है जरूरी


नवरात्रि व्रत के दौरान मिलेट्स का सेवन | Eating Millets During Navratri 

राजगीर की बात करें तो यह ग्लूटन फ्री होता है, साथ ही समक चावल में 10 प्रतिशत तक प्रोटीन पाया जाता है. वहीं, कुट्टू के आटे में कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम और विटामिन बी6 की अच्छी मात्रा पायी जाती है. इसके अलावा मिलेट्स में कई माइक्रोन्यूट्रिएंट्ंस भी होते हैं. मिलेट्स का ग्लासेमिक इंडेक्स 45 के आसपास होता है. इन्हें आप व्रत में खाई जा सकते वाली सब्जियों के साथ पकाकर खा सकते हैं. हालांकि, मिलेट्स के पकने का समय अलग-अलग होता है इसलिए इन्हें बनाते समय ध्यान रखना पड़ता है. 


कुट्टू का आटा 


कुट्टू के आटे (Kuttu ka aata) की बात करें तो इसमें सोल्यूबल फाइबर की अच्छी मात्रा पायी जाती है जो पाचन के लिए फायदेमंद साबित होती है. इसके अलावा इसमें मौजूद अमीनो एसिड्स शरीर को अच्छीखासी मात्रा में प्रोटीन देने का काम करते हैं. व्रत के दौरान डाइट को संतुलित रखने के लिए कट्टु का आटा परफेक्ट होता है. आप इस आटे को गूंथकर इसमें उबले आलू भरकर पूड़ियां बना सकते हैं. 

कुटकी

इस छोटे से मिलेट के दानों में भरपूर मात्रा में फाइबर (Fiber) पाया जाता है. अगर आप डाइबिटीज से पीड़ित हैं या आपके पेट में गड़बड़ी रहती है तो इस मिलेट को पकाकर खा सकते हैं. इसमें शरीर के लिए लाभकारी एंटी-ऑक्सीडेंट्स भी पाए जाते हैं. इसके अलावा यह ग्लूटन फ्री भी है. 


अमरनाथ

अमरनाथ भी एक तरह का मिलेट है जिसे नवरात्रि के दौरान खाया जा सकता है. इसमें प्रोटीन की अच्छी मात्रा पायी जाती है. साथ ही, इसमें अमीनो एसिड्स पाए जाते हैं. इस मिलेट से शरीर का कॉलेस्ट्रोल कम हो सकता है और यह पाचन को दुरुस्त रखने में कारगर है. 

Vitamin D की शरीर में हो गई है कमी तो कुछ चीजों से बना लें दूरी, भूलकर भी ना करें इनका सेवन 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Video: क्या आपने शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले को गरबा करते देखा?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com