विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 21, 2021

शिवसेना की BJP को चुनौती, 'तांडव के निर्माताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई अगर हिम्‍मत है तो...'

'सामना' के संपादकीय में सवाल किया गया है कि वेब सीरीज के खिलाफ आवाज उठाने वाली भाजपा गोस्वामी द्वारा कथित रूप से भारत-माता का अपमान किए जाने पर ‘तांडव’ क्यों नहीं कर रही है?

शिवसेना की BJP को चुनौती, 'तांडव के निर्माताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई अगर हिम्‍मत है तो...'
प्रतीकात्‍मक फोटो
नई दिल्ली:

शिवसेना (Shiv Sena) ने कहा है कि यह अच्छी बात है कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेताओं ने वेब सीरीज ‘तांडव' की सामग्री को लेकर उनके निर्माताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है लेकिन अगर उनमें वास्तव में हिम्मत है तो भारतीय सैनिकों की शहादत का अपमान करने वाले पत्रकार अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) के खिलाफ मामला दर्ज कराएं. महाराष्ट्र की गठबंधन सरकार की प्रमुख घटक शिवसेना ने यह भी आरोप लगाया कि किसी के पास से 100 ग्राम गांजा मिलने पर हो-हल्ला मचाने वाली मीडिया गोस्वामी के कथित देशद्रोह के मामले में राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा करने को तैयार नहीं है.उद्धव ठाकरे नीत पार्टी ने अपने मुखपत्र ‘सामना' के संपादकीय में उक्त टिप्प्णी की है.

टीवी एंकर की बालाकोट एयरस्ट्राइक संबंधी WhatsApp Chat मामले में विपक्ष ने की जांच की मांग

गौरतलब है कि मीडिया में जंगल में आग की तरह फैली रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक गोस्वामी और बीएआरसी के पूर्व सीईओ पार्थों दासगुप्ता के बीच वहाट्सऐप पर हुई कथित बातचीत की पृष्ठभूमि में सामना ने संपादकीय लिखा है.आरोप है कि उस कथित बातचीत से यह पता चलता है कि 26 फरवरी, 2019 को पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी शिविरों पर हवाई हमले के बारे में गोस्वामी को पहले से सूचना थी.

 शिवसेना का हमला- 'मोदी सरकार किसानों के साथ बस मीटिंग-मीटिंग खेल रही है'

गौरतलब है कि कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी, 2019 को पाकिस्तानी आंतकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा सीआरपीएफ के काफिले पर किए गए हमले में 40 जवानों की मौत हो गई थी. इसी पृष्ठभूमि में पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी शिविरों पर 26 फरवरी को हवाई हमला किया गया था.भाजपा के कुछ नेताओं ने वेब सीरीज ‘तांडव' पर हिन्दू देवी-देवताओं का उपहास करने का आरोप लगाते हुए उसके निर्माता, निर्देशकों आदि के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.शिवसेना का कहना है कि यह अच्छी बात है कि भाजपा नेताओं ने उत्तर प्रदेश और बिहार में ‘तांडव' के निर्माता-निर्देशकों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है. लेकिन अगर उनमें साहस है तो वे जवानों की शहादत का मजाक उड़ाने वाले गोस्वामी के खिलाफ मामला दर्ज करके दिखाएं.मराठी अखबार ने लिखा है, अगर गोस्वामी के देशद्रोह पर चर्चा होगी तो पुलवामा में शहीद हुए जवानों की आत्मा को शांति मिलेगी.

संपादकीय में सवाल किया गया है कि वेब सीरीज के खिलाफ आवाज उठाने वाली भाजपा गोस्वामी द्वारा कथित रूप से भारत-माता का अपमान किए जाने पर ‘तांडव' क्यों नहीं कर रही है?शिवसेना ने कहा कि महाराष्ट्र में उसके गठबंधन सहयोगी कांग्रेस ने बुधवार को मामले की जांच की मांग करते हुए सरकारी गोपनीयता कानून के तहत मामला दर्ज करने को कहा था.भाजपा की पूर्व सहयोगी शिवसेना ने कहा कि सरकार को इसकी सच्चाई सामने लानी चाहिए.इसमें कहा गया है , जैसे कि आरोप लग रहे हैं, तब तो हमारे सैनिकों की हत्या देश के भीतर एक राजनीतिक षड्यंत्र का हिस्सा थी और हमारे 40 जवानों का खून सिर्फ लोकसभा चुनाव (2019) जीतने के लिए बहाया गया?संपादकीय में आरोप लगाया गया है कि गोस्वामी की बातचीत सामने आने के बाद उन आरोपों को बल मिल रहा है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
इंटरनेट बंद, ड्रोन से निगरानी, 2000 जवानों की तैनाती... नूंह में ब्रजमंडल यात्रा को लेकर ट्रैफिक एडवाइजरी जारी
शिवसेना की BJP को चुनौती, 'तांडव के निर्माताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई अगर हिम्‍मत है तो...'
यह सायनाइड है क्या? रंग-स्वाद कैसा? दुनिया के सबसे जानलेवा जहर के बारे में जानिए
Next Article
यह सायनाइड है क्या? रंग-स्वाद कैसा? दुनिया के सबसे जानलेवा जहर के बारे में जानिए
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;