यह ख़बर 30 नवंबर, 2014 को प्रकाशित हुई थी

रोहतक में दो बहनों ने चलती बस में की मनचलों की जमकर पिटाई, किसी ने नहीं की मदद

रोहतक:

हरियाणा के सोनीपत की रहने वाली दो सगी बहनों के साथ बस में छेड़छाड़ कर रहे तीन लड़कों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने इस मामले में पिछले दो दिन से कोई कार्रवाई नहीं की थी, लेकिन मीडिया में ख़बर आने के बाद पुलिस को हरकत में आना पड़ा, और तीनों आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए।

दरअसल, ये दोनों बहनें रोहतक के राजकीय महिला विद्यालय में पढ़ती हैं और परीक्षा देकर लौट रही थीं, तभी हरियाणा रोडवेज़ की बस में तीन लड़के उनके साथ छेड़खानी करने लगे। इससे परेशान दोनों लड़कियों के सब्र का बांध टूट गया और उन्होंने उन मनचलों की जमकर पिटाई कर दी थी, लेकिन हैरानी की बात यह है कि उस भरी हुई बस में से भी न किसी ने लड़कों का विरोध किया और न लड़कियों का साथ दिया। दोनों लड़कियों ने घर पहुंचकर जब सारी घटना परिजनों को बताई तो उन्होंने पुलिस में मामला दर्ज कराया।

पुलिस ने बताया कि उसने इस घटना के सिलसिले में तीन युवकों के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान कुलदीप, मोहित और दीपक के रूप में की गई है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 354 (हमला या महिला की गरिमा को नुकसान पहुंचाने की मंशा से आपराधिक बल प्रयोग) और धारा 323 (जानबूझकर नुकसान पहुंचाना) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस ने बताया कि एक लड़की ने तो आरोपी की बेल्ट से पिटाई की। इनमें से एक लड़की ने बताया, 'उन्होंने हमें धमकी दी और हमारे साथ बदतमीजी की। इनमें से एक ने मेरी बहन को गलत तरीके से छुआ। उन्होंने अश्लील इशारे करने शुरू कर दिए... काफी कहासुनी के बाद इन लड़कों में से एक ने अपने दोस्तों से कहा कि वह हमें मारे। एक ने मेरी बहन को मारा जबकि बाकी दो ने मेरे हाथ पकड़ लिए।' इस लड़की ने बताया, 'इसके बाद मैंने अपनी बेल्ट निकाली और उन पर बरसाई। जब बस धीमी हुई तो उन्होंने हमें बस में से धक्का दे दिया।'

हरियाणा सरकार ने दोनों लड़कियों की तारीफ करते हुए 31−31 हज़ार रुपये के पुरस्कार का ऐलान किया है। प्रदेश के ग्रामीण विकास मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने यह घोषणा की। उन्होंने प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि सरकार महिलाओं की सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध है और महिलाओें के साथ किसी तरह की बदसलूकी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस मामले के आरोपियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की भी बात उन्होंने कही।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इनपुट एजेंसियों से भी)