विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 01, 2021

पंजाब में बिजली की दरों में 3 रुपये की कटौती, चुनावों से कुछ महीने पहले सरकार ने किया ऐलान

पंजाब में बिजली की दरों में तीन रुपये की कटौती की गई है. राज्‍य में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावों के पहले चरणजीत सिंह चन्‍नी की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार ने यह ऐलान किया है.

Read Time: 3 mins
चंडीगढ़:

पंजाब में बिजली की दरों में तीन रुपये की कटौती की गई है. राज्‍य में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावों के पहले चरणजीत सिंह चन्‍नी की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार ने यह ऐलान किया है.पंजाब सरकार के इस ऐलान को राज्‍य के लोगों के लिए दीवाली का तोहफा माना जा रहा है. सीएम चरणजीत सिंह चन्‍नी (Charanjit Singh Channi) ने बताया कि नए रेट आज से ही लागू हो गए हैं. सीएमने कहा कि इस फैसले से राज्‍य के 95 फीसदी निवासियों को फायदा होगा.उन्‍होंने कहा कि हमारे सर्वे बताते हैं कि लोग कम कीमत पर बिजली चाहते हैं न कि फ्री बिजली.

इससे पहले, सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने रविवार को यहां शक्तिपीठ श्री देवी तालाब मंदिर में मत्था टेका और लंगर पर लगने वाले वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को माफ किये जाने की घोषणा की थी. चन्नी ने ट्वीट कर कहा  था, ‘‘धार्मिक और आध्यात्मिक तीर्थस्थलों के केंद्रों पर लंगर की नि:स्वार्थ सेवा - पंजाब की समृद्ध संस्कृति और विरासत का एक अभिन्न हिस्सा है. श्री देवी तालाब मंदिर में मत्था टेकते समय, मैंने इस अत्यधिक प्रतिष्ठित मंदिर में परोसे जाने वाले लंगर पर जीएसटी माफ करने की घोषणा की.''गौरतलब है कि अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया है कि यदि आम आदमी पार्टी राज्‍य में सत्‍ता में आई तो राज्‍य में बिजली मुफ्त की जाएगी. ऐसे में चन्‍नी सरकार के ऐलान को केजरीवाल  और आम आदमी पार्टी के ऐलान का असर कम करने की कोशिश माना जा रहा है. 

जून माह में  'आप' संयोजक और दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा था कि यदि AAP पंजाब विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly polls 2022) में जीती तो हर परिवार के लिए 300 यूनिट तक बिजली फ्री दी जाएगी.इसके साथ ही उन्‍होंने 24 घंटे बिजली और पुराने बिजली बिलों की माफी का भी वादा किया. पंजाब में अगले वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में राज्‍य में राजनीतिक सरगर्मियां धीरे धीरे तेज होती जा रही हैं . राज्‍य में सत्‍तारूढ़ कांग्रेस के सामने आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल चुनौती पेश कर रहे हैं.

अमित शाह ने नरेंद्र मोदी को आजादी के बाद सबसे कामयाब प्रधानमंत्री बताया

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;