विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Aug 26, 2011

अनशन तोड़ने पर बनते-बनते रह गई बात

New Delhi: अन्ना हजारे और सरकार के बीच बात बनते−बनते रह गई है और इसमें नया पेंच फंस गया है। सरकार चाहती है कि अन्ना हजारे संसद में जनलोकपाल बिल पर चर्चा शुरू होते ही अनशन तोड़ने का लिखित आश्वासन दें। दूसरी तरफ, टीम अन्ना का कहना है कि इस मुद्दे पर जब तक संसद से प्रस्ताव पारित नहीं होता, वह अनशन नहीं तोड़ेंगे। वहीं किरण बेदी ने कहा कि जब तक मांगें पूरी नहीं होती, तब तक अनशन नहीं टूटेगा। उधर, अन्ना हजारे ने प्रधानमंत्री को एक चिट्ठी लिखी है। इसमें उन्होंने लिखा है कि मेरी अंतरात्मा ये कहती है कि अगर संसद में तीनों प्रस्ताव पर रिजोल्यूशन पास हो जाता है, तो मैं अनशन तोड़ दूंगा, लेकिन जनलोकपाल पास होने तक रामलीला मैदान में धरना चलता रहेगा।

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
RPF में भरे जाएंगे 32000 पद, रेल मंत्रालय का दावा- 2014 से 24 के बीच दी गई 5 लाख से अधिक नौकरियां
अनशन तोड़ने पर बनते-बनते रह गई बात
'कमला हैरिस का राजयोग शुरू...' बाइडेन के ऐलान से घंटों पहले भारतीय ज्योतिषी ने कर दी थी भविष्यवाणी
Next Article
'कमला हैरिस का राजयोग शुरू...' बाइडेन के ऐलान से घंटों पहले भारतीय ज्योतिषी ने कर दी थी भविष्यवाणी
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;