विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 20, 2021

इमरान खान को बड़ा भाई बताने वाले नवजोत सिद्धू चौतरफा घिरे, अपनों ने भी नहीं बख्शा

नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तान के करतारपुर में गुरुद्वारा दरबार साहिब की यात्रा से लौटने के बाद पंजाब के गुरदासपुर में एक संवाददाता सम्मेलन में की टिप्पणी

Read Time: 6 mins
इमरान खान को बड़ा भाई बताने वाले नवजोत सिद्धू चौतरफा घिरे, अपनों ने भी नहीं बख्शा
पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू पाकिस्तान के करतारपुर में गुरुद्वारा दरबार साहिब की यात्रा से लौटे.
गुरदासपुर:

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) फिर से खुलने पर शनिवार को खुशी जाहिर की और कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और उनके पाकिस्तानी समकक्ष इमरान खान (Imran Khan) के प्रयासों से संभव हुआ है. सिद्धू ने यह टिप्पणी पंजाब के गुरदासपुर में एक संवाददाता सम्मेलन में पाकिस्तान के करतारपुर में गुरुद्वारा दरबार साहिब की यात्रा से लौटने के बाद की. सिद्धू ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के प्रयासों से करतारपुर साहिब कॉरिडोर (Kartarpur Sahib Corridor) को फिर से खोलना संभव हुआ है."

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने सिद्धू पर निशाना साधते हुए कहा कि इमरान भारत के लिए ISI और पाकिस्तानी सेना के उस गठजोड़ का मोहरा हैं, जो पंजाब में हथियार एवं ड्रग्स और जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी भेजता है.' सांसद ने सवाल किया कि  क्या हम पुंछ के अपने सैनिकों की शहादत इतनी जल्दी भूल गए? सिद्धू का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया है, जिसमें वो इमरान खान उनके ‘‘बड़े भाई'' जैसा बता रहे हैं.बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट किया, ‘राहुल गांधी के प्रिय नवजोत सिद्धू इमरान खान को बड़ा भाई कहते हैं.

पिछली बार उन्होंने पाक सेना प्रमुख बाजवा को गले लगाया था और पाकिस्तान की प्रशंसा की थी. अब यह किसी से छिपा नहीं है कि क्यों अमरिंदर सिंह की जगह कांग्रेस ने सिद्धू को तरजीह दी. बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि यह करोड़ों हिंदुस्तानियों के लिए एक गंभीर विषय है, चिंता का विषय है.उन्होंने दावा किया कि सिद्धू का बयान केवल मात्र एक घटना नहीं है, बल्कि यह कांग्रेस पार्टी का एक तरीका बन गया है, जिसमें उनके नेता हिन्दुत्व को निशाना बनाते हैं और पाकिस्तान का महिमामंडन करते हैं.

कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की पुस्तक का हवाला देते हुए पात्रा ने कहा कि कांग्रेस को हिन्दुत्व में बोको हरम और आईएसआईएस जैसे आतंकी संगठन दिखते हैं जबकि खान में ‘भाई जान'.बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि राहुल और प्रियंका गांधी को यह बताना चाहिए कि सिद्धू के बारे में उनकी क्या राय है.

आम आदमी पार्टी ने भी भी कहा कि उनका बयान बेहद चिंताजनक है. आप के पंजाब मामलों के सह प्रभारी राघव चड्ढा ने एक ट्वीट में कहा,पंजाब की कांग्रेस पार्टी के प्रमुख पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के प्रति प्रेम का इजहार कर रहे हैं और पाकिस्तान एक ऐसा देश है जो आतंकवाद निर्यात करता है, आतंकी नेटवर्क खड़ा करता है, टिफिन बम भेजता है और पंजाब में ड्रोन से मादक द्रव्य और हथियार भेजता है.'

इससे पहले नवजोत सिद्धू ने कहा कि "मैं अनुरोध करता हूं कि यदि आप पंजाब में जीवन बदलना चाहते हैं, तो हमें सीमाएं (सीमा पार व्यापार के लिए) खोलनी चाहिए. हमें मुंद्रा बंदरगाह से क्यों जाना चाहिए, कुल 2,100 किमी? यहां से क्यों नहीं, जहां यह केवल 21 किमी (पाकिस्तान के लिए) है“ 

करतारपुर (पाकिस्तान) में पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि ''जब अमीरों के लिए कराची-मुंबई मार्ग खोला जा सकता है, तो आम पंजाबियों के लिए लाहौर-अमृतसर मार्ग क्यों नहीं खोला जा सकता? पंजाब को ननकाना साहिब के दर्शन के लिए क्यों नहीं आना चाहिए? पर्यटन को बढ़ावा क्यों नहीं दिया जाना चाहिए?'' 

सिद्धू ने यह भी कहा कि ''अगर ऐसा होता है, तो दोनों पंजाब, दोनों देश छह महीने के भीतर उतनी ही प्रगति करेंगे, जितनी 60 साल में होनी चाहिए थी. यह लोगों के जीवन को बदलने का सुनहरा अवसर है. मैं मोदी साहब और खान साहब से दरवाजे खोलने का अनुरोध करता हूं. व्यापार 275,000 करोड़ अमेरिकी डॉलर का होने की संभावना है.''

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल में गुरुवार को करतारपुर साहिब का दौरा करने वाले राज्य के कैबिनेट मंत्रियों के प्रतिनिधिमंडल से नवजोत सिंह सिद्धू का नाम शामिल नहीं होने पर पंजाब कांग्रेस में फिर से हड़कंप मच गया था.

पाकिस्तान में सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव के अंतिम विश्राम स्थल गुरुद्वारा दरबार साहिब को पंजाब के गुरदासपुर जिले में डेरा बाबा नानक मंदिर से जोड़ने वाला वीजा मुक्त 4.7 किलोमीटर लंबा करतारपुर कॉरिडोर बुधवार को फिर से खुल गया. यह कॉरिडोर, जो 2019 में चालू हुआ था, को COVID-19 महामारी के मद्देनजर बंद कर दिया गया था.

इससे पहले पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने सिख तीर्थ स्थल करतारपुर साहिब के लिए गलियारा खोलने में सिद्धू की भूमिका की प्रशंसा की थी.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;