मोदी जी कहते हैं, "आपकी अंगुली पकड़कर राजनीति में आए..." - PM के बयान पर शरद पवार का आया रिएक्शन

पवार (81) ने कहा कि वह उम्र के इस पड़ाव पर कोई जिम्मेदारी लेना नहीं चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं सिर्फ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ जनमत पैदा करने के लिए गैर-भाजपा दलों को एक साथ लाने में मदद करूंगा.’’

मोदी जी कहते हैं,

BJP विपक्षी नेताओं को डराने के लिए ED, CBI और आयकर विभाग का दुरुपयोग कर रही है: पवार

ठाणे:

पीएम मोदी कहते हैं कि उन्होंने आपकी उंगली पकड़कर राजनीति में प्रवेश किया हैं...मीडिया द्वारा पूछे गए इस सवाल पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार ने कहा कि "मुझे नहीं पता था कि यह इतना महंगा पड़ेगा". दरअसल एक रिपोर्टर ने पीएम मोदी की इस टिप्पणी का जिक्र करते हुए पवार से प्रतिक्रिया मांगी. जिसके जवाब में उन्हें ये बात कही.  वहीं शरद पवार कहा कि आम राय बनाने के लिए गैर-भाजपा दलों को एक साथ लाने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं और वह अपनी उम्र के कारण कोई जिम्मेदारी लेना नहीं चाहते हैं. ठाणे में पत्रकारों से बातचीत में पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीत केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए दावा किया कि उनकी सरकार ने 2014 के बाद से ‘अच्छे दिन' लाने, इंटरनेट के जरिए गांवों को जोड़ने और प्रत्येक घर को शाौचालय, पानी तथा बिजली उपलब्ध कराने समेत अपना एक भी वादा पूरा नहीं किया. पवार ने कहा कि भाजपा का मकसद केवल छोटे दलों को सत्ता से बाहर करना है.

उन्होंने कहा, ‘‘गैर-भाजपा दलों को एक साथ लाने तथा भाजपा के खिलाफ जनमत तैयार करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं.'' पवार (81) ने कहा कि वह उम्र के इस पड़ाव पर कोई जिम्मेदारी लेना नहीं चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं सिर्फ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ जनमत पैदा करने के लिए गैर-भाजपा दलों को एक साथ लाने में मदद करूंगा.''

पवार ने कहा, ‘‘ केंद्र सरकार ने 2014 के आम चुनाव के समय से कई वादे किए, लेकिन पूरा एक भी नहीं किया. प्रधानमंत्री ने देश के हर एक नागरिक को मकान देने का वादा किया था, लेकिन सरकार उसे पूरा नहीं कर पाई. अब 2024 तक पांच हजार डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का नया वादा किया गया है.'' राकांपा प्रमुख ने भाजपा की आलोचना करते हुए दावा किया कि वह सत्ता में आने के लिए जांच एजेंसियों का इस्तेमाल करती है.

उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा अपने विरोधियों के खिलाफ जो कर रही है, वह कुछ नहीं बल्कि संसदीय लोकतंत्र पर एक हमला है, जो गंभीर चिंता का विषय है। सभी गैर-भाजपा शासित राज्यों में वह विधायकों को तोड़ने तथा सत्ता हथियाने की कोशिश कर रही है. महाराष्ट्र ताजा उदाहरण है.'' उन्होंने कहा कि भाजपा केरल और आंध्र प्रदेश में नाकाम हो गयी है.

पवार ने कहा कि भाजपा विपक्षी नेताओं को डराने के लिए प्रवर्तन निदेशालय, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो और आयकर विभाग का दुरुपयोग कर रही है. राकांपा के दो नेता अनिल देशमुख और नवाब मलिक अभी जेल में हैं. धन शोधन के अलग-अलग मामलों में ईडी ने उन्हें गिरफ्तार किया था.

राकांपा नेता ने पूछा, ‘‘आप कल्पना कर सकते हैं कि सीबीआई, ईडी और आयकर विभाग ने अनिल देशमुख और उनके रिश्तेदारों के आवास पर रिकॉर्ड 110 छापे मारे?'' उन्होंने अनिल देशमुख के मामले का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘शुरुआत में एजेंसियों ने 100 करोड़ रुपये की निधि के दुरुपयोग का दावा किया, बाद में उन्होंने इसे 4.07 करोड़ कर दिया और अब वे कह रहे हैं कि यह महज 1.71 करोड़ रुपये की निधि का मामला हैय अदालत में इन सबका पर्दाफाश हो जाएगा.''

उन्होंने कहा कि राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक तथा शिवसेना के संजय राउत को जेल में डाल दिया गया, क्योंकि वे अपने-अपने दलों की तरफ से बोलते थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: आरे कॉलोनी में मेट्रो का ट्रायल रन शुरू, Sipz से Colaba तक बढ़ेगी कनेक्टिविटी