विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Mar 24, 2023

लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने प्रदर्शन के मामले में दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया केस

लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने प्रदर्शन के मामले में दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज किया है. IPC, UAPA और PDPP के तहत यह मामला दर्ज किया गया है और स्‍पेशल सेल ने जांच शुरू कर दी है.

Read Time: 13 mins
लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने प्रदर्शन के मामले में दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया केस
लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने प्रदर्शन के मामले में दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज किया
नई दिल्‍ली:

देश विरोधी गतिविधियों के मामले में भगोड़े अमृतपाल सिंह के समर्थन में ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग के सामने प्रदर्शन और तिरंगे का अपमान करने के मामले में दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. स्पेशल सेल के टीम इस मामले में आईबी की मदद ले रही है. स्पेशल सेल की टीम उन तमाम खलिस्तानी समर्थकों की पहचान कर रही है जो उस रोज प्रदर्शन का हिस्सा थे. सूत्रों के मुताबिक, खुफिया विभाग की तरफ से कुछ प्रदर्शनकारियों की पहचान की गई है जिनकी जानकारी स्पेशल सेल को दी गई है. हालांकि इनमें से कई लोग ऐसे है जो सालों पहले भारत छोड़ चुके है.

Advertisement

प्रदर्शनकारियों की वीडियो के जरिये की जा रहे पहचान

सूत्रों की मानें तो जिन लोगों के बारे में खुफिया विभाग को पता चला है वो पंजाब के तरनतारन, मजीठा, होशियारपुर और संगरूर के रहने वाले है जिन पर स्पेशल सेल जल्द शिकंजा कसेगी. वीडियो के ज़रिये अभी और भी प्रदर्शनकारियों की पहचान की जा रही है. स्पेशल सेल ने समर्थकों पर पुलिस ने शिकंजा कसने की तैयारी कर ली है. स्पेशल सेल ने IPC, UAPA,PDPP के तहत मामला दर्ज किया है. भारत के पासपोर्ट से विदेश की धरती पर देश के खिलाफ साजिश रचने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. 

भारत ने ब्रिटिश उप उच्‍चायुक्‍त को किया था तलब

गौरतलब है कि 19 मार्च को लंदन में यह प्रदर्शन हुआ था. रविवार के इस प्रदर्शन के मामले में भारत ने दिल्ली में सबसे वरिष्ठ ब्रिटिश राजनयिक को तलब किया था और खालिस्तान समर्थक अलगाववादी तत्वों द्वारा लंदन में भारतीय उच्चायोग में भारतीय ध्वज को उतारे जाने के प्रयास वाला वीडियो सामने आने के बाद ‘‘सुरक्षा व्यवस्था की गैरमौजूदगी'' पर स्पष्टीकरण मांगा था. विदेश मंत्रालय ने एक कड़े बयान में कहा था कि भारत को ब्रिटेन में भारतीय राजनयिक परिसरों और कर्मियों की सुरक्षा के लिए ब्रिटेन सरकार की बेरुखी देखने को मिली है, जो अस्वीकार्य है. सूत्रों ने बताया था कि ब्रिटिश उप उच्चायुक्त क्रिस्टीना स्कॉट को घटना के मद्देनजर विदेश मंत्रालय में तलब किया गया क्योंकि उच्चायुक्त एलेक्स एलिस दिल्ली से बाहर हैं.

Advertisement

सुरक्षा को लेकर ब्रिटेन सरकार की बेरुखी देखने को मिली : विदेश मंत्रालय 

विदेश मंत्रालय ने कहा था, ‘‘ब्रिटेन से सुरक्षा व्यवस्था की गैरमौजूदगी के लिए स्पष्टीकरण की मांग की गई, जिससे ये तत्व उच्चायोग परिसर में दाखिल हुए.''मंत्रालय ने कहा कि राजनयिक को वियना संधि के तहत ब्रिटेन सरकार के बुनियादी दायित्वों की याद दिलाई गई. विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘भारत को ब्रिटेन में भारतीय राजनयिक परिसरों और कर्मियों की सुरक्षा के लिए ब्रिटेन सरकार की बेरूखी देखने को मिली है, जो अस्वीकार्य है.''

Advertisement

ये भी पढ़ें-

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
क्या पाकिस्तान ने भारत के सामने टेक दिए घुटने? समझिए नवाज शरीफ के कबूलनामे के मायने
लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने प्रदर्शन के मामले में दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया केस
आ रहा है रेमल... समंदर में उठ रहे बवंडर का खौफ, देखिए बंगाल में चेन से बांध दी गईं ट्रेनें
Next Article
आ रहा है रेमल... समंदर में उठ रहे बवंडर का खौफ, देखिए बंगाल में चेन से बांध दी गईं ट्रेनें
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;