DA Hike in 7th Pay Commission: एक बार फिर DA में बढ़ोतरी का तोहफा मिल सकता है सरकारी कर्मचारियों-अधिकारियों को

माना जा रहा है कि अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI या AICPI) इस साल जनवरी और फरवरी में लगभग स्थिर रहा, लेकिन मार्च, 2022 में इसमें हुई बढ़ोतरी की वजह से केंद्र सरकार महंगाई भत्ता एक बार फिर बढ़ाए जाने का फैसला ले सकती है.

DA Hike in 7th Pay Commission: एक बार फिर DA में बढ़ोतरी का तोहफा मिल सकता है सरकारी कर्मचारियों-अधिकारियों को

केंद्र सरकार हर वर्ष दो बार (1 जनवरी और 1 जुलाई) महंगाई भत्ते (DA) और महंगाई राहत में संशोधन करती ही है...

नई दिल्ली:

सातवें वेतन आयोग (7th Pay Commission) के आधार पर वेतन पाने वाले लाखों कर्मचारियों-अधिकारियों तथा पेंशनभोगियों को जल्द ही महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का तोहफा मिलने के आसार नज़र आ रहे हैं. ऐसे आसार हैं कि केंद्र में सत्तासीन नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi Government) इस साल जुलाई से एक बार फिर महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी (DA Hike) कर सकती है. DA में वृद्धि होने की सूरत में इसका लाभ केंद्र के लगभग 48 लाख कर्मचारियों-अधिकारियों तथा पेंशन पाने वाले 69 लाख लोगों को मिलेगा.

माना जा रहा है कि अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI या AICPI) इस साल जनवरी और फरवरी में लगभग स्थिर रहा, लेकिन मार्च, 2022 में इसमें हुई बढ़ोतरी की वजह से केंद्र सरकार महंगाई भत्ता एक बार फिर बढ़ाए जाने का फैसला ले सकती है.

केंद्र सरकार हर वर्ष दो बार (1 जनवरी और 1 जुलाई) महंगाई भत्ते और महंगाई राहत में संशोधन करती ही है, जिसकी घोषणा आमतौर पर मार्च और सितंबर में की जाती है, लेकिन 31 दिसंबर, 2019 के बाद से डेढ़ साल तक इसमें कोई बढ़ोतरी या संशोधन नहीं किया गया था. इसके बाद 7th Pay Commission के आधार पर वेतन पाने वाले सभी कर्मियों के लिए पिछले साल, यानी 2021 में जुलाई में ही महंगाई भत्ते को 17 फीसदी से 11 फीसदी बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया गया था, और फिर उसे अक्टूबर में दोबारा तीन फीसदी बढ़ा दिया गया था, और उस बढ़ोतरी को भी 1 जुलाई, 2021 से ही लागू किया गया था, जिसके परिणामस्वरूप 1 जुलाई, 2021 से ही सभी केंद्रीय कर्मियों को वेतन तथा पेंशनधारकों को पेंशन पर DA 31 फीसदी की दर से मिलता आ रहा था. इसके बाद इस साल 1 जनवरी से भी महंगाई भत्ते में तीन फीसदी की बढ़ोतरी घोषित की गई थी, जिसके बाद से सभी केंद्रीय कर्मियों और पेंशनधारकों को 34 फीसदी महंगाई भत्ता मिलता आ रहा है.

जैसा हम बता चुके हैं, हर साल सितंबर के आसपास केंद्र सरकार DA में संशोधन घोषित करती है, और मुद्रास्फीति के नए आंकड़ों के आधार पर उम्मीद की जा सकती है कि इस बार भी वेतन पाने वाले सभी कर्मियों-अधिकारियों का DA बढ़ाया जा सकता है. अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के नए आंकड़ों के जारी हो जाने के बाद DA में बढ़ोतरी की मज़बूत संभावना को कतई नकारा नहीं जा सकता.

केंद्र सरकार DA में जो भी बढ़ोतरी घोषित करेगी, नियमानुसार वह 1 जुलाई, 2022 से ही लागू होगी, और कर्मियों-पेंशनधारको को जुलाई से फैसला लागू होने तक के समय का बकाया (Arrears) भी दिया जाएगा. अगर DA में यह बढ़ोतरी 3 फीसदी होती है, तो सातवें वेतन आयोग के आधार पर वेतन पाने वाले सभी लोगों को 18,000 रुपये की बेसिक सैलरी पर DA में 540 रुपये की बढ़ोतरी हासिल होगी, और मूल वेतन 25,000 होने पर यह बढ़ोतरी 750 रुपये प्रतिमाह हो जाएगी. इसी तरह, 50,000 मूल वेतन पाने वालों तो 1,500 रुपये प्रतिमाह का लाभ होगा, और मूल वेतन, यानी बेसिक सैलरी 1,00,000 रुपये पाने वालो को महंगाई भत्ते में 3 फीसदी वृद्धि होने के बाद कुल वेतन में 3,000 रुपये का फायदा हासिल होगा.

लेकिन अगर यह वृद्धि 4 फीसदी होती है, तो सातवें वेतन आयोग की सिफारिश के मुताबिक, आपकी बेसिक सैलरी 18,000 रुपये होने की स्थिति में आपके DA में 720 रुपये का इजाफा होगा, जो सालाना 8,640 रुपये बनेगा. अगर आपका मूल वेतन 25,000 है, तो आपको 1,000 रुपये प्रतिमाह या 12,000 रुपये सालाना का लाभ मिलेगा. इसी तरह यदि आपका मूल वेतन 50,000 रुपये है, तो आपको कुल वेतन में 2,000 रुपये प्रतिमाह अथवा 24,000 प्रतिवर्ष की वृद्धि हासिल होगी, और अगर आपका मूल वेतन, यानी बेसिक सैलरी 1,00,000 रुपये है, तो महंगाई भत्ते में की गई 4 फीसदी वृद्धि के बाद कुल वेतन में 4,000 रुपये माहाना या 48,000 रुपये सालाना का इजाफा हो जाएगा.

bookd49o

--- ये भी पढ़ें ---
* क्या है PF, यानी प्रॉविडेंट फंड - जानें पीएफ से जुड़े सभी सवालों के जवाब...
* ग्रेच्युटी क्या है, कैसे की जाती है कैलकुलेट – सब कुछ जानें
* अगर HRA छूट पाने के लिए मां-बाप को देते हैं किराया, तो हो जाएं सावधान...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: क्या महामारी से पहले के स्तर पर पहुंचेगी GDP...?