असदुद्दीन ओवैसी ने अमित शाह पर साधा निशाना, बोले- ये कैसी 'चाणक्य नीति' है कि पड़ोसी ही...

ओवैसी ने नागरिकता कानून पर बांग्लादेश के एक बयान का हवाला देते हुए ट्वीट किया.

असदुद्दीन ओवैसी ने अमित शाह पर साधा निशाना, बोले- ये कैसी 'चाणक्य नीति' है कि पड़ोसी ही...

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi).

खास बातें

  • असदुद्दीन ओवैसी ने अमित शाह पर साधा निशाना
  • नागरिकता संशोधन कानून पर की खिंचाई
  • कहा, पड़ोसी मुल्क हमें जीडीपी के बारे में बता रहा है
नई दिल्ली :

नागरिकता संशोधन कानून पर जारी विवाद के बीच एआईएमआईएम (इंडिया मजलिस-ए-इ्त्तेहादुल मुस्लिमीन) नेता असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधा है. ओवैसी ने नागरिकता कानून पर बांग्लादेश के एक बयान का हवाला देते हुए ट्वीट किया, 'यह कैसी चाणक्य नीति है अमित शाह जी, कि हमारा प्रिय पड़ोसी ही हमें जीडीपी और जीवन स्तर के बारे में बता रहा है, जबकि आप देश को खोखला करने के बारे में सोच रहे हैं. ओवैसी यहीं नहीं रुके. उन्होंने अपने ट्वीट में अमित शाह को टैग करते हुए लिखा, 'आपको एक सेल्फ हेल्प बुक लिखनी चाहिए कि किस तरह किसी से 'दोस्ती खत्म की जाए और अपना प्रभाव भी गंवा दिया जाए.' 

असदुद्दीन ओवैसी ने लोकसभा में चर्चा के दौरान नागरिकता संशोधन बिल फाड़ा- देश को विभाजित करने जैसा बताया

बता दें कि एआईएमआईएम (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन औवेसी (Asaduddin Owaisi) ने शनिवार को कहा कि उन्होंने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में जनहित याचिका दायर की है. औवेसी ने ट्वीट किया, "मैंने सीएए के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में जनहित याचिका दायर की है. एआईएमआईएम भारत के बहुलवादी, धर्मनिरपेक्ष संवैधानिक लोकतंत्र को बनाए रखने के लिए लड़ाई लड़ेगी. यह लड़ाई हर संभव मंच और हमारे पास मौजूद हर संवैधानिक हथियार का उपयोग कर लड़ी जाएगी." 

अमित शाह ने ओवैसी के बयान पर कहा- हमें मुसलमानों से कोई नफरत नहीं, आप भी नफरत पैदा मत करना

इससे पहले औवेसी (Asaduddin Owaisi) ने बीते सोमवार को लोकसभा में नागरिकता (संशोधन) विधेयक को लेकर केन्द्र सरकार निशाना साधते हुए कहा था कि इसका उद्देश्य मुसलमानों को "राष्ट्रविहीन" बनाना है और इससे एक और विभाजन होगा. लोकसभा में औवेसी ने राष्ट्रपिता गांधी का जिक्र करते हुए कहा था कि उन्हें महात्मा इसलिये कहा गया क्योंकि उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में भेदभावपूर्ण नागरिकता कार्ड फाड़ा था. इसके बाद हैदराबाद से सांसद औवेसी ने विरोधस्वरूप विधेयक की प्रति फाड़ दी थी.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: नागरिकता संशोधन विधेयक लोकसभा में पास