"बिना योग्यता देखे टिकट...": गौतम गंभीर के राजनीति छोड़ने पर AAP का भाजपा पर तंज

गौतम गंभीर के राजनीति से संन्‍यास लेने के फैसले पर तंज कसते हुए आप नेता आतिशी का कहना है कि भाजपा टिकट बंटवारे के लिए सही तरीका नहीं चुनती है. इसीलिए हर साल दिल्‍ली में चेहरे बदलने पड़ते हैं.

बीजेपी किसी को भी बिना योग्यता देखे टिकट दे देती है- आतिशी

नई दिल्‍ली :

दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने शनिवार को कहा कि उन्होंने पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा (JP Nadda) से उन्हें राजनीतिक दायित्वों से मुक्त करने का अनुरोध किया है, ताकि वह क्रिकेट संबंधी अपनी आगामी प्रतिबद्धताओं पर ध्यान दे सकें. आम आदमी पार्टी ने गौतम गंभीर के राजनीति छोड़ने को लेकर भाजपा पर हमला बोला है. आप मंत्री आतिशी (Atishi) का कहना है कि बीजेपी बिना योग्‍यता देखे ही लोगों को टिकट दे देती है. 

आतिशी ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा, "पूर्व क्रिकेटर और पूर्वी दिल्‍ली से सांसद गौतम गंभीर ने राजनीति से संन्यास को लेकर ट्वीट किया है, इसका क्या मतलब है...? मतलब है कि उनका टिकट काटा जा रहा है. बीजेपी किसी को भी बिना योग्यता देखे टिकट दे देती है. पिछले 5 साल में गौतम गंभीर ने अपने संसदीय क्षेत्र में कोई काम नहीं कराया है."  

गौतम गंभीर के राजनीति से संन्‍यास लेने के फैसले पर तंज कसते हुए आप नेता आतिशी ने कहा, "बीजेपी क्या करती है, पहले किसी यूजलेस को टिकट देती है और वो काम नहीं करते, तो टिकट काट कर नए व्यक्ति को लाकर चुनाव लड़वाती है. बीजेपी को चैलेंज देती हूं कि वे दिखाएं कि उनके किसी भी सांसदों ने कोई भी एक काम किया हो. बीजेपी के सातों सांसदों ने दिल्‍ली में कुछ भी काम नहीं किया है. दिल्लीवालों के जब हक़ छीने गए, तो ये दिल्लीवालों की परेशानियों पर खुश हो रहे थे, केंद्र सरकार की गोद में बैठे रहे..."

आगामी लोकसभा चुनावों में विपक्षी गठबंधन 'INDIA'को वोट देने की अपील करते हुए आतिशी ने कहा, "मेरी दिल्लीवालों से अपील है कि गठबंधन के सातों उम्‍मीदवारों को जिताएं, जो दिल्लीवालों के लिए खड़े हों." 

वहीं, पूर्वी दिल्ली से AAP प्रत्याशी कुलदीप कुमार ने कहा, "बड़े दुख के साथ बताना पड़ रहा है कि एक बार फिर बीजेपी के सांसद कीी सीट बदली जा रही है. हर बार बीजेपी नए चेहरे लाती है. दुख होता है कि बीते 5 साल में गौतम गंभीर एक भी जगह पूर्वी दिल्ली में नहीं गए. गंभीर ने पूर्वी दिल्ली के लोगों को धोखा दिया. ज़मीन पर काम करने वालों से पाला पड़ा तो हवा में रहने वाले चुनाव से पहले भाग गए. महेश गिरी और गौतम गंभीर ने सांसद रहते पूर्वी दिल्ली में जो गड्ढे खोदे हैं, उनका जवाब जनता मांगेगी." 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये भी पढ़ें:-