विज्ञापन
Story ProgressBack

जल गया राजेश खन्ना-मुमताज के 'जय-जय शिव शंकर' वाला गुलमर्ग का 109 साल पुराना मंदिर

पुलिस के अनुसार मंदिर में आग लगने से किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है. पुलिस के अनुसार मंदिर के ऊपरी हिस्से में लकड़ी का ज्यादा इस्तेमाल हुआ था. लिहाजा आग की वजह से सबसे ज्यादा नुकसान ऊपरी हिस्से को ही हुआ है.

Read Time: 3 mins
जल गया राजेश खन्ना-मुमताज के 'जय-जय शिव शंकर' वाला गुलमर्ग का 109 साल पुराना मंदिर
गुलमर्ग की शिव मंदिर में लगी भीषण आग, कोई हताहत नहीं
नई दिल्ली:

जय-जय शिव शंकर कांटा लगे ना कंकर... ये गाना तो आज भी हम सभी को लगा है. राजेश खन्ना और मुमताज पर फिल्माया गया ये गाना शूट हुआ था गुलमर्ग के शिव मंदिर में. जिस मंदिर में ये गाना शूट हुआ था उसमें बुधवार की शाम आग लग गई. आग इतनी भयानक थी कि कुछ ही देर में मंदिर का ज्यादातर हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया. यह मंदिर गुलमर्ग के विश्व प्रसिद्ध स्की रिसार्ट गुलमर्ग में स्थित है. इस एतिहासिक शिव मंदिर मोहिनेश्वर के नाम से जाना जाता था. 

Latest and Breaking News on NDTV

मंदिर में आग किस वजह से लगी इसका अभी पता नहीं चल सका है. पुलिस ने फिलहाल इस घटना को लेकर मामला दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर दी है. आपको बता दें कि यह एतिहासिक शिव मंदिर गुलमर्ग के बीचों बीच स्थित है. 

Latest and Breaking News on NDTV

किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है

पुलिस के अनुसार मंदिर में आग लगने से किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है. पुलिस के अनुसार मंदिर के ऊपरी हिस्से में लकड़ी का ज्यादा इस्तेमाल हुआ था. लिहाजा आग की वजह से सबसे ज्यादा नुकसान ऊपरी हिस्से को ही हुआ है. पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि जब मंदिर में आग लगी उस दौरान वहां कोई नहीं था. यहां तक की मंदिर का चौकीदार भी उस दौरान मंदिर प्रागण में नहीं था. यही वजह थी कि आग लगने के बाद भी कोई इसमें हताहात नहीं हुआ है. 

Latest and Breaking News on NDTV

इस मंदिर में कई फिल्मों की हुई है शूटिंग

इस मंदिर में अकेले राजेश खन्ना और मुमताज के फिल्म की शूटिंग नहीं हुई है. बीते कई दशकों में इस फिल्मों में बॉलीवुड से लेकर दक्षिण भारत में बनने वाली कई फिल्मों की शूटिंग हो चुकी है. यही वजह है कि ये यहां आने वाले पर्यटकों के बीच भी खासा प्रचलित है. पर्यटक जब भी गुलमर्ग आते हैं, तो वो यहां दर्शन के लिए जरूर आते हैं. 

1915 में बनाया गया था ये मंदिर

भगवान शिव को समर्पित इस मंदिर का निर्माण जम्मू-कश्मीर के अंतिम डोगरा शासक महाराज हरि सिंह की रानी मोहिनी बाई सिसोदिया ने वर्ष 1915 में बनवाया था. इस वज से ही इसे मोहिनेश्वर शिवालय और रानी मंदिर के नाम से भी जाना जाता है.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
गुजरात के गोधरा में नीट-यूजी परीक्षा पास कराने में अभ्यर्थियों की मदद करने के आरोप में पांच गिरफ्तार
जल गया राजेश खन्ना-मुमताज के 'जय-जय शिव शंकर' वाला गुलमर्ग का 109 साल पुराना मंदिर
आयुष्मान भारत का लाभ 70 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को देना 100 दिन के एजेंडे के शीर्ष पर
Next Article
आयुष्मान भारत का लाभ 70 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को देना 100 दिन के एजेंडे के शीर्ष पर
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;