एलोपैथी के खिलाफ कमेंट मामले में SC पहुंचे रामदेव, याचिका दाखिल कर की यह मांग..

योग गुरु रामदेव ने अपनी याचिका में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की पटना और रायपुर शाखाओं द्वारा दर्ज FIR  पर रोक लगाने और इन्हें दिल्ली ट्रांसफर करने की मांग की है.

एलोपैथी के खिलाफ कमेंट मामले में SC पहुंचे रामदेव, याचिका दाखिल कर की यह मांग..

खास बातें

  • अपने खिलाफ दर्ज FIR पर कार्यवाही पर रोक लगाने की मांग की
  • इन याचिकाओं को दिल्‍ली ट्रांसफर करने की मांग की
  • उनके खिलाफ अलग- अलग जगह शिकायतें दर्ज कराई गई हैं
नई दिल्ली:

एलोपैथी के खिलाफ टिप्पणी के मामले में योग गुरु रामदेव (Yoga Guru Ramdev) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की शरण ली है. एलोपैथी के खिलाफ कथित टिप्पणी के लिए विभिन्न राज्यों में उनके खिलाफ दर्ज कई FIR को लेकर यह याचिका दाखिल की गई है. इस याचिका में इन FIR पर कार्यवाही पर रोक लगाने की मांग की गई है. योग गुरु रामदेव ने अपनी याचिका में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की पटना और रायपुर शाखाओं द्वारा दर्ज FIR  पर रोक लगाने और इन्हें दिल्ली ट्रांसफर करने की मांग की है. दरअसल, रामदेव ने एलोपैथी को कोविड के खिलाफ अप्रभावी बताया था. जिसके बाद उनके खिलाफ अलग- अलग जगह शिकायतें दर्ज कराई गई थीं.  


रामदेव पर राजद्रोह का मामला दर्ज होना चाहिए : आईएमए ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर कहा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि योग गुरु रामदेव का एलोपैथी को 'बेवकूफी भरा' बताने वाला एक वीडियो वायरल हुआ था, इसको लेकर डॉक्टरों ने कड़ा ऐतराज जताया था. इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(Indian Medical Association) ने इसको लेकर बाबा रामदेव को कानूनी नोटिस भी भेजा था. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने योग गुरु रामदेव से डॉक्टरों के खिलाफ आपत्तिजनक बयान को वापस लेने के लिए कहा था. केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री के दखल के बाद रामदेव ने अपना बयान वापस तो ले लिया था लेकिन अभी भी एलोपैथी डॉक्‍टरों का कतिपय बयानबाजी को लेकर योगगुरु के प्रति गुस्‍सा बरकरार है.