Coronavirus के खिलाफ लड़ाई में भारत के 'निर्णायक कदमों' के कायल हुए WHO चीफ और बिल गेट्स

भारत में कोविड के खिलाफ स्वदेश निर्मित वैक्सीन कोवैक्सीन के इमरजेंसी यूज़ को अनुमति मिल चुकी है, जिसके बाद भारत में बड़े स्तर पर वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू करने की तैयारी हो रही है. ऐसे में कई बड़ी हस्तियों ने भारत की कोशिशों की तारीफ की है.

Coronavirus के खिलाफ लड़ाई में भारत के 'निर्णायक कदमों' के कायल हुए WHO चीफ और बिल गेट्स

कोविड के खिलाफ लड़ाई में भारत की कोशिशों की तारीफ.

नई दिल्ली:

India Coronavirus : कोरोनावायरस महामारी के जूझते हुए दुनिया को एक साल से ज्यादा का वक्त हो चुका है. इस महामारी पर कुछ हद तक काबू पाया जा सका है और कई देशों में इसके खिलाफ वैक्सीनेशन भी शुरू हो चुका है लेकिन इसका अंत अभी भी बहुत दूर दिखाई दे रहा है. हालांकि, विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख तेद्रोस अधानोम घेब्रायसस सहित विश्व के कई नेताओं ने वायरस के खिलाफ लड़ाई में भारत के कदमों की तारीफ की है. WHO चीफ ने मंगलवार को एक ट्वीट कर महामारी के खिलाफ वैक्सीन निर्माता बनने के उसके संकल्प और कोशिशों को लेकर उसकी तारीफ की. 

उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'भारत एक के बाद एक निर्णायक कदम उठा रहा है और दिखा रहा है कि वो कोविड-19 महामारी को खत्म करने के लेकर संकल्पित है. दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता के तौर पर वो ऐसा करने में सक्षम भी है.' उन्होंने पीएम मोदी को टैग करते हुए लिखा कि 'अगर हम साथ आकर काम करें तो हम हर जगह पर वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित लोगों को प्रभावी और सुरक्षित वैक्सीन उपलब्ध करा सकते हैं.'


बता दें कि Drug Controller General of India ने रविवार को भारत में कोविड के खिलाफ स्वदेश निर्मित वैक्सीन कोवैक्सीन के इमरजेंसी यूज़ को अनुमति दे दी थी, इसके साथ ही भारत में बड़े स्तर पर वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू करने की तैयारी हो रही है. सभी राज्यों में पहले ही वैक्सीन के ड्राई रन कराए जा रहे हैं, ताकि इस ऑपरेशन में आने वाली मुश्किलों और जरूरतों का अनुमान लग सके. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भारत में भी वैक्सीन उपलब्ध होने के मौके पर Bill & Melinda Gates Foundation के सह-अध्यक्ष और अरबपति बिजनेसमैन बिल गेट्स ने भी भारत की तारीफ की है. उन्होंने सोमवार को ट्विटर पर PMO को टैग करते हुए एक ट्वीट किया और कहा कि 'ऐसे में जब दुनिया कोविड-19 महामारी को खत्म करने की कोशिशों में जुटी है तो भारत की साइंटिफिक इनोवेशन और वैक्सीन उपलब्ध कराने की क्षमता में भारत का नेतृत्व देखना अच्छा लग रहा है.'