UP : दिनेश शर्मा की जगह ब्रजेश पाठक बन सकते हैं डिप्टी CM, मंत्री पद की रेस में ये दिग्‍गज सबसे आगे : सूत्र

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को बृहस्पतिवार को एक बार फिर सर्वसम्मति से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नवनिर्वाचित विधायक दल का नेता चुन लिया गया है और आज ये उत्तर प्रदेश के सीएम पद की शपथ लेने वाले हैं.

लखनऊ:

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को बृहस्पतिवार को एक बार फिर सर्वसम्मति से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नवनिर्वाचित विधायक दल का नेता चुन लिया गया है और आज ये उत्तर प्रदेश के सीएम पद की शपथ लेने वाले हैं. शपथ ग्रहण समारोह से पहले कुछ नवनिर्वाचित विधायक योगी से मिलने पहुंचे. इसके बाद से यूपी कैबिनेट में संभावित मंत्रियों के नामों को लेकर अटकलें तेज हैं. इनमें एके शर्मा, बेबी रानी मौर्य, ब्रजेश पाठक, असीम अरुण, स्वतंत्र देव सिंह सहित अन्य हैं. 

योगी आदित्यनाथ के पास पहले की तरह दो डिप्टी होंगे. सूत्रों का कहना है कि चुनाव हारने वाले केशव मौर्य के अपने पद पर बने रहने की संभावना है, लेकिन दिनेश शर्मा, जिन्होंने चुनाव नहीं लड़ा है, उनकी जगह ब्रजेश पाठक ले सकते हैं. शीर्ष ब्राह्मण नेता ब्रजेश पाठक योगी आदित्यनाथ की पहली सरकार में कानून मंत्री थे.

ये हैं कुछ संभावित नए मंत्री:

एके शर्मा: यूपी विधान परिषद के सदस्य, उन्हें भाजपा नेतृत्व ने दो साल पहले यूपी भेजा था. इन्हें प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी के रूप में जाना जाता है. योगी आदित्यनाथ ने पहले कथित तौर पर कैबिनेट में उनके प्रवेश का विरोध किया था

बेबी रानी मौर्य :  आगरा से यूपी चुनाव लड़ने के लिए उत्तराखंड के राज्यपाल का पद छोड़ दिया था. वह भाजपा के सबसे प्रमुख अनुसूचित जाति के चेहरों में से एक हैं.

जितिन प्रसाद : इन्होंने पिछले साल कांग्रेस छोड़ दी थी और उन्हें योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री बनाया गया. उनके फिर से मंत्री बनने की संभावना है. 

असीम अरुण: पूर्व आईपीएस (भारतीय पुलिस सेवा) अधिकारी ने भाजपा में शामिल होने और चुनाव लड़ने के लिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली है. वह कन्नौज से जीते हैं. 

दिनेश खटीक: वह हस्तिनापुर मेरठ से जीते हैं और पश्चिमी यूपी में भाजपा के एक महत्वपूर्ण दलित नेता हैं. 

संदीप सिंह : अतरौली से बीजेपी विधायक यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के पोते हैं.

अरुण वाल्मीकि: वे वाल्मीकि समुदाय का प्रतिनिधित्व करने वाले एक महत्वपूर्ण भाजपा नेता हैं. 

आशीष पटेल: अपना दल के नेता विधान परिषद के सदस्य और अनुप्रिया पटेल के पति हैं. अपना दल भाजपा का एक महत्वपूर्ण सहयोगी है, जिसने हाल के चुनाव में 12 सीटें जीती थीं. 

संजय निषाद: वह भाजपा की सहयोगी निषाद पार्टी के प्रमुख हैं. उनके बेटे पूर्वी यूपी से बीजेपी सांसद हैं.

आज 4 बजे लेंगे शपथ

योगी लगातार दूसरी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले हैं. शुक्रवार को राजधानी लखनऊ में होने वाले शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं और भारत रत्‍न अटल बिहारी वाजपेयी इकाना क्रिकेट स्‍टेडियम को पूरी तरह से सजा दिया गया है. शपथ ग्रहण समारोह 4 बजे शुरू हो जाएगा. वहीं योगी आदित्यनाथ ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को भी शपथ ग्रहण में आने का न्योता दिया है. योगी आदित्यनाथ ने मुलायम सिंह यादव को फोन किया है. साथ ही अखिलेश यादव और मायावती को भी फोन पर बात कर न्योता दिया है.  

शपथ ग्रहण समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी भी शामिल होंगे. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, बीजेपी प्रमुख जेपी नड्डा सहित कई प्रमुख नेता, कारोबारियों सहित हजारों की संख्‍या में मेहमान समारोह में शिरकत करेंगे. बीजेपी के वर्तमान और पूर्व मुख्‍यमंत्री भी समारोह में शामिल होंगे. बॉलीवुड स्‍टार अक्षय कुमार, कंगना रनौत और बोनी कपूर को भी शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने का आमंत्रण भेजा गया है. कश्‍मीरी पंडितों के मुद्दे पर हाल ही में रिलीज हुई फिल्‍म 'द कश्‍मीर फाइल्‍स' की टीम को भी समारोह के लिए बुलाया गया है. एक्‍टर अनुपम खेर और  फिल्‍म के निर्देशक विवेक अग्निहोत्री के कार्यक्रम में शामिल होने की संभावना है.  मैदान पर 20 हजार कुर्सियां लगाई गई हैं और प्रदेश की जनता को इस दौरान मौजूद होगी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि यूपी में हाल में हुए विधानसभा चुनाव में योगी आदित्‍यनाथ की अगुवाई में बीजेपी ने फिर सत्ता में वापसी की है. विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 41.29 फीसदी वोट हासिल किए हैं.