UP: गंगनहर में दो कारों में मिली लाशें, ड्राइविंग लाइसेंस से हुआ ये खुलासा

पहला मामला जनपद के रतनपुरी थाना क्षेत्र स्थित गंग नहर में उस समय का ह, जब सोमवार को गंग नहर का पानी कम होने पर नहर में एक संदिग्ध कार दिखाई पड़ी, जिसकी  सूचना पर पहुंची पुलिस ने क्रेन की मदद से कार को नहर से निकलवाकर जब कार की तलाशी ली तो कार की बैक सीट पर एक व्यक्ति की सड़ी गली लाश पड़ी मिली. 

UP: गंगनहर में दो कारों में मिली लाशें, ड्राइविंग लाइसेंस से हुआ ये खुलासा

गंगनहर में दो कारों में मिली लाशें

लखनऊ:

यूपी के मुजफ्फरनगर में उस समय सनसनी फैल गई जब दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों में स्थित गंग नहर से दो कारों में दो लाशें बरामद हुई. दोनों लाशें सड़ चुकी थीं. पहला मामला जनपद के रतनपुरी थाना क्षेत्र स्थित गंग नहर में उस समय का ह, जब सोमवार को गंग नहर का पानी कम होने पर नहर में एक संदिग्ध कार दिखाई पड़ी, जिसकी  सूचना पर पहुंची पुलिस ने क्रेन की मदद से कार को नहर से निकलवाकर जब कार की तलाशी ली तो कार की बैक सीट पर एक व्यक्ति की सड़ी गली लाश पड़ी मिली. 

मृतक की जेब से एक ड्राइविंग लाइसेंस भी मिला है,जिसमे मृतक का नाम दिलशाद निवासी बघरा था. बहराल पुलिस ने इस शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाकर मृतक के परिजनों को सूचित कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

जानकारी के मुताबिक- कार से मिला शव दिलशाद नाम के एक व्यक्ति का है, जो दिसंबर माह में अपने एक दोस्त की कार मांगकर कही ले गया था,जिसके बाद से वह लौटकर नहीं आया, लेकिन आज दिलशाद का शव रतनपुरी गंग नहर में एक कार से पुलिस ने बरामद किया.

दूसरी कार के मामले में मुजफ्फरनगर रतनपुरी के सीओ विनय कुमार गौतम ने बताया कि  थाना सिखेड़ा क्षेत्र स्थित गंग नहर में भी पानी कम होने के कारण एक कार नहर में दिखाई देने की सुचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने यहां भी क्रेन की मदद से कार को नहर से जब बाहर निकाला तो इस कार में एक व्यक्ति का सड़ा गला शव मिलने से अफरातफरी मच गई. 


मृतक व्यक्ति के पास से कुछ कागज मिलने पर जब पुलिस ने जांच की तो मृतक की पहचान नई मंडी कोतवाली क्षेत्र के द्वारका सिटी निवासी उदय आत्रेय के नाम से हुई, जो बीती 5 फ़रवरी से लापता चल रहे थे , जिसकी गुमशुदगी भी परिजनों द्वारा नई मंडी कोतवाली में दर्ज कराई गई थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बताया जा रहा है कि मृतक उदय आत्रेय 4 फ़रवरी की शाम 7 बजे अपने घर से मीरापुर किसी काम से जाने के लिए निकले थे, लेकिन उदय आत्रेय फिर लौट कर घर वापस नहीं आए. बहराल पुलिस ने नहर से दोनों कारों के अंदर से मिले शवों को पोस्मार्टम के लिए भिजवाकर अपनी जांच शुरू कर दी है.