महाराष्ट्र में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू, पॉजिटिविटी दर और खाली ऑक्सीजन बेड के आधार पर दी जा रही छूट 

जिन शहरों या जिलों में पॉजिटिविटी दर 5 फीसदी से कम है और जहाँ 25 फीसदी से कम ऑक्सीजन बेड इस्तेमाल हो रहे हैं, वो पहले लेवल पर हैं.

महाराष्ट्र में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू, पॉजिटिविटी दर और खाली ऑक्सीजन बेड के आधार पर दी जा रही छूट 

प्रतीकात्मक तस्वीर.

मुंबई:

कोरोना के मामलों में आई कमी के बाद अब महाराष्ट्र में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की गई है. कुल 5 स्तरों में यह अनलॉक किया जा रहा है और हर एक शहर या जिले में पॉजिटिविटी दर और ऑक्सीजन बेड के आधार पर ही छूट दी जा रही है. दो महीनों से अधिक समय तक महाराष्ट्र में कोरोना के मामलों में हुई बढ़ोतरी के वजह से लगी पाबंदी के बाद, राज्य सरकार ने शुक्रवार रात नए आदेश जारी कर अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की है.

मुंबई के सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन की कमी, लेकिन प्राइवेट में मिल रहा है टीका

जिन शहरों या जिलों में पॉजिटिविटी दर 5 फीसदी से कम है और जहाँ 25 फीसदी से कम ऑक्सीजन बेड इस्तेमाल हो रहे हैं, वो पहले लेवल पर हैं. इसमें कुल 10 जिले शामिल हैं, जिसमें नागपुर, अहमदनगर, चंद्रपुर, जालना शामिल. जहाँ पर पॉजिटिविटी दर 5 फीसदी से कम है, लेकिन ऑक्सीजन बेड का उपयोग 25 से 40 फीसदी के बीच हो रहा है, वो दूसरे लेवल पर हैं. इसमें हिंगोली और नंदुरबार जिले शामिल हैं.


कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि 5 से 10 फीसदी पॉजिटिविटी दर और 40 फीसदी से ज़्यादा ऑक्सीजन बेड का जहां इस्तेमाल किया जा रहा है, वो शहर और जिले तीसरे लेवल पर हैं. इसमें मुंबई, ठाणे, नाशिक, पालघर, औरंगाबाद जैसे  कुल 15 जिले शामिल हैं. 10 से 20 फीसदी पॉजिटिविटी दर और 60 फीसदी से ज़्यादा ऑक्सीजन  बेड का उपयोग जहाँ हो रहा है, वो शहर चौथे लेवल पर हैं. इसमें पुणे, सिंधुदुर्ग, कोल्हापुर, रायगढ़ जैसे जिले शामिल हैं. 20 फीसदी से ज़्यादा पॉजिटिविटी दर और 75 फीसदी से ज़्यादा ऑक्सीजन बेड इस्तेमाल करने वाले शहर पांचवें लेवल में आएंगे. इसमें कोई भी ज़िला नहीं है. ज़िलों के स्तर पर ही ये  तय किया गया है कि कहाँ कितनी छूट दी जाएगी. पहले लेवल वाले जिलों को जहाँ सबसे ज़्यादा छूट मिलेगी, तो पांचवें लेवल वाले जिलों को सबसे कम.

महापौर, किशोरी पेडनेकर ने कहा कि पहले लेवल में आने वाले जिलों में दफ्तर, दुकान, मॉल, थिएटर, होटल, रेस्टोरेंट, जिम, सैलून सबकुछ सामान्य तरीके से चलेंगे. शादियों पर भी कोई पाबंदी नहीं है. दूसरे लेवल में आने वाले जिलों में मॉल, थिएटर, रेस्टोरेंट, जिम, सैलून 50 फीसदी की क्षमता पर चलेंगे. तीसरे लेवल में आने वाले जिलों में दुकानें केवल 4 बजे तक खुल सकती हैं. रेस्टोरेंट भी 50 फीसदी की क्षमता के साथ 4 बजे तक खुले रह सकते हैं. मॉल, थिएटर बंद रहेंगे. चौथे लेवल में आने वाले जिलों में अत्यावाश्यक दुकानें 4 बजे तक खुली रहेंगी, दूसरी सभी दुकानें बंद रहेंगी. मॉल, थिएटर बंद रहेंगे. तीसरे लेवल में आने वाले मुंबई में फिलहाल लोकल ट्रेन बंद रहेंगे.

मुंबई के समीप बदलापुर में इंडस्ट्रियल गैस लीक, कई लोगों की तबीयत बिगड़ी


मुंबई में भले ही लोकल बंद हों, लेकिन दफ्तरों को अब 4 बजे तक खुला रखा जा सकता है. पहले से ही जहाँ सड़कों पर ट्रैफिक दिखने लगी थी, अब आने वाले दिनों बसों और गाड़ियों की तादाद और भी बढ़ जाएगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com