विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 09, 2019

कश्मीर के हालात पर संयुक्त राष्ट्र ने जताई चिंता, UN चीफ बोले- हमारे कुछ कर्मी कश्मीर में काम कर रहे हैं

जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त किए जाने और जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख को दो केन्द्र शासित प्रदेश बनाने की घोषणा केन्द्र सरकार ने पांच अगस्त को की थी.

Read Time: 12 mins
कश्मीर के हालात पर संयुक्त राष्ट्र ने जताई चिंता, UN चीफ बोले- हमारे कुछ कर्मी कश्मीर में काम कर रहे हैं
संयुक्त राष्ट्र ने कश्मीर के हालात पर जताई चिंता
संयुक्त राष्ट्र:

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस के एक प्रवक्ता ने कश्मीर के हालात पर चिंता जताई, साथ ही कहा कि भारत में संयुक्त राष्ट्र एजेंसी के कुछ कर्मी कश्मीर में काम कर रहे हैं. संयुक्त राष्ट्र प्रमुख के प्रवक्ता स्टीफेन दुजारिक ने मंगलवार को संवाददाताओं से नियमित बातचीत में कहा, ‘हम कश्मीर के हालात पर यकीनन चिंतित हैं और यह चिंता लगातार बनी हुई है. मेरा मानना है कि हमारे कुछ मानवीय सहायताकर्मी...भारत में संयुक्त राष्ट्र एजेंसी के हमारे कुछ कर्मी वहां काम कर पा रहे हैं.'

उन्होंने कहा कि उन्हें इस पर अभी और जानकारी मिलनी बाकी है. प्रवक्ता से ‘न्यूयॉर्क टाइम्स'की एक रिपोर्ट के बारे में पूछा गया था कि कश्मीर में संचार पूरी तरह से बंद होने के कारण वहां के लोगों को चिकित्सकीय सहायता नहीं मिल पा रही है. ऐसे हालात में संयुक्त राष्ट्र जरूरतमंदों की मदद के लिए क्या करने जा रहा है.

Advertisement

कश्मीर मुद्दे पर अमेरिकी सीनेटर का आया बड़ा बयान, कहा- भारत की सुरक्षा संबंधी चिंताएं जायज, लेकिन...

वहीं, अमेरिका में ‘सीनेट इंडिया कॉकस' के सह-अध्यक्ष एवं डेमोक्रेटिक सीनेटर मार्क वार्नर ने मंगलवार को कहा कि वह जम्मू-कश्मीर में लोगों की आवाजाही और संचार पर लगे ‘प्रतिबंधों के कारण व्यथित' हैं. वार्नर ने भारत सरकार से अपील की कि वह प्रेस, सूचना एवं राजनीतिक भागीदारी की आजादी देकर लोकतांत्रिक सिद्धांतों का पालन करे.

सीनेटर वार्नर ने ट्वीट किया, ‘मैं इस बात को समझता हूं कि भारत की सुरक्षा संबंधी चिंताएं जायज हैं, लेकिन मैं जम्मू-कश्मीर में संचार एवं लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंधों से व्यथित हूं.' उन्होंने कहा, ‘मैं उम्मीद करता हूं कि भारत प्रेस, सूचना एवं राजनीतिक भागीदारी की स्वतंत्रता देकर लोकतांत्रिक सिद्धांतों का पालन करेगा.'

शी चिनफिंग के भारत दौरे से पहले चीन ने कहा-द्विपक्षीय ढंग से हो कश्मीर मुद्दे का समाधान

Advertisement

बता दें, जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त किए जाने और जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख को दो केन्द्र शासित प्रदेश बनाने की घोषणा केन्द्र सरकार ने पांच अगस्त को की थी. इसके बाद से कश्मीर भर में कड़ी पाबंदियां लगा दी गई थी.

पाक की नापाक कोशिश: भारतीय सीमा में घुसा पाकिस्तान का एक और ड्रोन, अलर्ट पर BSF

Advertisement

VIDEO: जम्मू कश्मीर: 10 अक्टूबर से पर्यटकों पर लगी पाबंदियां हटीं

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
अदाणी ग्रुप ने कोयला सप्लाई में गड़बड़ी के आरोपों को बताया बेबुनियाद, मार्केट कैप में आया बड़ा उछाल
कश्मीर के हालात पर संयुक्त राष्ट्र ने जताई चिंता, UN चीफ बोले- हमारे कुछ कर्मी कश्मीर में काम कर रहे हैं
लोकसभा चुनाव : पांचवें चरण की 49 सीटों पर प्रचार खत्‍म, 20 मई को मतदान; इन दिग्‍गजों की किस्‍मत दांव पर
Next Article
लोकसभा चुनाव : पांचवें चरण की 49 सीटों पर प्रचार खत्‍म, 20 मई को मतदान; इन दिग्‍गजों की किस्‍मत दांव पर
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;