रोहिणी कोर्ट शूटआउट केस: दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट CP बोले, "बड़े गैंग के ज़्यादातर अपराधी सलाखों के पीछे"

क्राइम ब्रांच के ज्वाइंट सीपी आलोक कुमार ने कहा, "हमने हर गैंग की एक लिस्ट तैयार की है और उस लिस्ट के हिसाब से उन पर लगातार काम होता है."

रोहिणी कोर्ट शूटआउट केस:  दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट CP बोले,

आलोक कुमार ने कहा कि हमें कुछ इनपुट मिले हैं कि इनके एक-दो एसोसिएट बाहर भी बैठे हैं.

नई दिल्ली:

दिल्ली की रोहिणी कोर्ट के भीतर गोलीबारी (Rohini court shootout) की घटना के बाद पुलिस एक्टिव हो गई है. रविवार को क्राइम ब्रांच के ज्वाइंट सीपी आलोक कुमार ने कहा कि अंतरराज्यीय गैंग में अभी ज़्यादातर टॉप लीडरशिप जेल के अंदर है, दिल्ली पुलिस ने बहुत व्यवस्थित तरीके से काम करके उन्हें जेल के अंदर किया है. हमने हर गैंग की एक लिस्ट तैयार की है और उस लिस्ट के हिसाब से उन पर लगातार काम होता है.

रोहिणी कोर्ट शूटआउट केस में 2 बदमाश गिरफ्तार, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दबोचा

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक आलोक कुमार ने कहा कि हमें कुछ इनपुट मिले हैं कि इनके एक-दो एसोसिएट बाहर भी बैठे हैं, उनके कार्यकलापों पर भी दिल्ली पुलिस काम कर रही है. इन गैंग के ​आपस में लिंक होते हैं जिसमें ये एक दूसरे को लॉजिस्टिक मुहैया कराते हैं. वहीं, उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस सोशल मीडिया पर भी नज़र रखती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि अपराध या अपराध को आगे नहीं बढ़ाया जाए. लगातार सोशल मीडिया मॉनिटरिंग से हमें सूचना एकत्र करने और उसके अनुसार आवश्यक कार्रवाई करने में मदद मिलती है.

उधर, सूत्रों का कहना है कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell ) ने रोहिणी कोर्ट शूटआउट मामले में 2 बदमाशों को गिरफ्तार किया है.आरोपियों का नाम उमंग और विनय है. उमंग ने पूछताछ में बताया कि इस शूटआउट के लिए उसे टिल्लू उर्फ ताजपुरिया ने फ़ोन पर निर्देश दिया था.इसके बाद हमले में मारे गए दोनों बदमाशो के साथ मिलकर उमंग ने शूटआउट के पहले रोहिणी कोर्ट की रेकी की थी. इसके अलावा विनय को उमंग ने अपने साथ इस सजिश में शामिल किया था. शूटआउट के पहले दोनों हमलावरों को उमंग और विनय अपने साथ कार में लेकर रोहिणी कोर्ट गए थे.  यहां उमंग और विनय ने भी वकील की यूनिफार्म पहनी हुई थी. जैसे ही इन्हें पता चला कि हमलावर राहुल और जग्गा मारे गए ये दोनों भी वहां से फरार हो गए. इनकी गिरफ्तारी गेट नम्बर 4 के पास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज के आधार पर की गई है.  

'लापरवाही करते हैं सुरक्षाकर्मी' : रोहिणी शूटआउट को लेकर कमिश्नर से मिले दिल्ली बार काउंसिल के चेयरमैन

उमंग ने ही रोहिणी सेक्टर 28 में हमलावरों को शूटआउट से पहले एक किराए के कमरे में ठहरवाया था. 24 सितम्बर की सुबह उमंग दोनों शूटर के साथ रोहिणी सेक्टर 9 के एक मॉल में पहुंचा जहां तीनों ने वकील का ड्रेस पहना. उसके बाद तीनों रोहिणी कोर्ट पहुंचे, प्लान था कि उमंग बैक अप प्लान के लिए वकील के कपड़े पहन कर बाहर कार में मौजूद रहेगा. दोनों शूटर कोर्ट रूम में जाएंगे और जितेंद्र को ख़त्म करके वापस कार में बैठकर फ़रार होंगे. लेकिन प्लान फेल हुआ और शूटआउट के बाद उमंग कार लेकर फ़रार हो गया.


रोहिणी कोर्ट शूटआउट केस में 2 बदमाश गिरफ्तार, पूछताछ में अहम खुलासा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com