यह ख़बर 21 नवंबर, 2014 को प्रकाशित हुई थी

रामपाल के खिलाफ हत्या, दंगा भड़काने जैसे कई संगीन मामले दर्ज, भूखे पेट जेल में काटी पहली रात

रामपाल के खिलाफ हत्या, दंगा भड़काने जैसे कई संगीन मामले दर्ज, भूखे पेट जेल में काटी पहली रात

हिसार:

रामपाल 28 नवंबर को पेशी तक रामपाल पुलिस रिमांड पर रहेगा और उससे पूछताछ जारी है। रामपाल के खिलाफ देशद्रोह, हत्या, दंगा भड़काने और लोगों को जबरन बंधक बनाने समेत 35 नए मामले दर्ज किए गए हैं।

बीती रात जेल में रामपाल भूखा रहा। उसने खाना खाने से मना कर दिया और सिर्फ पानी पीकर रात बिताई। सुबह उसे चाय दी गई।

उधर, बरवाला स्थित आश्रम में पांच महिलाओं और एक बच्चे की मौत को लेकर रामपाल की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। आश्रम में हुई मौतों के बारे में अंग्रेजी अखबार 'इंडियन एक्सप्रेस' की खबर के मुताबिक पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि चार महिलाओं को गंभीर चोटें लगीं थीं। इनमें से दो महिलाओं की पसलियां टूटी मिलीं, जबकि कुछ के पैरों में चोट लगी।

पुलिस को रामपाल के आश्रम की तलाशी के दौरान भारी मात्रा में पेट्रोल बम, कील, छर्रे और हथियार मिले। आश्रम में तहखाने का भी पता चला है।

इससे पूर्व, गुरुवार को जब रामपाल को पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में अवमानना के मामले में पेश किया गया, तो वह शांत दिखाई दिया। क्रीम रंग का पूरी आस्तीन का स्वेटर पहने और कंधे पर शॉल डाले 63-वर्षीय रामपाल ने एक घंटे से अधिक समय तक चली अदालती कार्यवाही के दौरान एक शब्द भी नहीं बोला।


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com