केरल की वाम सरकार के रुख पर बरसे राहुल गांधी, बोले- लोगों की रोजी-रोटी खतरे में डाल रहे

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा, "बफर जोन पर केरल सरकार के रुख से वायनाड वाइल्डलाइफ सेंचुरी के आसपास के लोगों की आजीविका (रोजी-रोटी) खतरे में पड़ रही है."

केरल की वाम सरकार के रुख पर बरसे राहुल गांधी, बोले- लोगों की रोजी-रोटी खतरे में डाल रहे

बफर जोन को लेकर राहुल गांधी पर केरल सरकार पर हमला (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

केरल विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने पी विजयन की अगुवाई वाली सरकार पर मंगलवार को निशाना साधा. राहुल गांधी ने इको-सेंसिटिव जोन या पारिस्थितिक रूप से संवेदनशील क्षेत्र (ESZ) पर केंद्र के मसौदा अधिसूचना पर केरल सरकार के रुख की आलोचना की है. उन्होंने कहा कि बफर जोन पर राज्य सरकार के इस रुख से वायनाड वाइल्डलाइफ सेंचुरी के आसपास रहने वाले लोगों की आजीविका को खतरे में डाल रहा है. ESZ, वायनाड वन्यजीव अभयारण्य जैसे संरक्षित क्षेत्रों के आसपास एक बफर ज़ोन होता है. 

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा, "बफर जोन पर केरल सरकार के रुख से वायनाड वाइल्डलाइफ सेंचुरी के आसपास के लोगों की आजीविका (रोजी-रोटी) खतरे में पड़ रही है. सरकार का यह कदम इन मेहनतकश लोगों को अनिश्चितता और पीड़ा के धूमिल भविष्य की ओर धकेला रहा है. सुरक्षात्मक कदम लिए जाने की तत्काल जरूरत है." 


चुनावी राज्य केरल के दौरे पर आए राहुल गांधी ने सोमवार को वायनाड में ट्रैक्टर रैली में हिस्सा लिया और कृषि कानूनों के मुद्दे पर केंद्र सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि  कृषि एकमात्र व्यवसाय है जिसका संबंध ‘भारत माता' से है. उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि वे कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए सरकार को ‘मजबूर' करें. केरल में सत्ताधारी वामदल और कांग्रेस की अगुवाई वाला विपक्ष दोनों कृषि कानूनों की आलोचना कर रहे हैं.

वीडियो: कांग्रेस के लिए प्रचार करने उतरे राहुल गांधी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com