सरकारी संस्थाओं के निजीकरण को लेकर राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना- रोजगार और जमा पूंजी नष्ट...

कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार पर हमलावर बने हुए हैं. राहुल ने अब सरकारी संस्थाओं के निजीकरण को लेकर हमला बोला है. राहुल ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि केंद्र की मोदी सरकार सरकारी कंपनियों का निजीकरण करके रोज़गार और जमा-पूंजी को नष्ट कर रही है. 

सरकारी संस्थाओं के निजीकरण को लेकर राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना- रोजगार और जमा पूंजी नष्ट...

सरकारी संस्थाओं के निजीकरण को लेकर राहुल का हमला. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • राहुल का मोदी सरकार पर हमला
  • सरकारी संस्थाओं के निजीकरण पर साधा निशाना
  • कहा- रोजगार और जमापूंजी नष्ट कर रही सरकार
नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लगातार मोदी सरकार (Modi Government) पर हमलावर बने हुए हैं. राहुल ने अब सरकारी संस्थाओं के निजीकरण को लेकर हमला बोला है. राहुल ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि केंद्र की मोदी सरकार सरकारी कंपनियों का निजीकरण करके रोज़गार और जमा-पूंजी को नष्ट कर रही है. 

उन्होंने ट्वीट में लिखा, 'आज देश मोदी सरकार-निर्मित कई आपदाएंं झेल रहा है जिनमें से एक है अनावश्यक निजीकरण. युवा नौकरी चाहते हैं पर मोदी सरकार PSUs का निजीकरण करके रोज़गार व जमा पूंजी नष्ट कर रही है. फ़ायदा किसका? बस चंद ‘मित्रों' का विकास जो हैं मोदी जी के ख़ास. Stop Privatisation Save Govt Jobs.'

आज देश मोदी सरकार-निर्मित कई आपदाएँ झेल रहा है जिनमें से एक है अनावश्यक निजीकरण।

युवा नौकरी चाहते हैं पर मोदी सरकार PSUs का निजीकरण करके रोज़गार व जमा पूँजी नष्ट कर रही है।

फ़ायदा किसका?

बस चंद ‘मित्रों' का विकास
जो हैं मोदी जी के ख़ास।

Stop Privatisation Save Govt Jobs.

— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) September 7, 2020

बता दें कि पिछले कुछ सालों में केंद्र सरकार ने कई सरकारी संस्थाओं के निजीकरण को प्रोत्साहन दिया है. रेलवे में निजीकरण के तहत स्टेशन बनाए जाने और प्राइवेट ट्रेनें चलाए जाने की तैयारियों के बीच देश की इकलौती सरकारी एयरलाइन एयर इंडिया के निजीकरण को लेकर भी तैयारियां हैं. घाटे में चल रही एयरलाइन पर नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कुछ वक्त पहले कहा था कि निजीकरण ही बेहतर विकल्प है और सरकार अगले कुछ महीनों में यह काम कर लेना चाहती है.

यह भी पढ़ें: 'एयरपोर्ट-एयरलाइंस सरकार को नहीं चलाना चाहिए' वाले बयान पर कुमार विश्वास का तंज- जब देश ही भगवान चला रहे हैं.....

इसके अलावा कांग्रेस ने एयरपोर्ट्स के निजीकरण को लेकर हाल में सवाल उठाए थे. दरअसल, केरल के तिरुवनंतपुरम एयरपोर्ट का लीज अगले 50 सालों के लिए अडाणी एंटरप्राइजेज़ को दे दिया गया है, जिसका पिनरई विजयन की सरकार और कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट ने विरोध किया था. कांग्रेस सांसद शशि थरूर, जो तिरुवंनतपुरम से सांसद हैं, ने भी इसका विरोध किया था. 

इसके अलावा पिछले हफ्ते यह भी खबर आई थी कि अडाणी समूह जीवीके समूह (GVK Group) की हिस्सेदारी का अधिग्रहण करेगा. अडाणी ग्रुप की ओर से बताया गया कि मुंबई हवाईअड्डे में जीवीके समूह की हिस्सेदारी खरीदने और नियंत्रण हासिल करने का समझौता हो गया है.


Video: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : क्या सरकारी बैंकों का निजीकरण होकर रहेगा?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com