कोरोना काल में पहली बार विदेश दौरे पर PM मोदी, बांग्‍लादेश में मुजीबुर रहमान के जन्‍मशती कार्यक्रम में लेंगे हिस्‍सा

दूसरे दिन पीएम मोदी ढाका से 300 KM की दूरी पर शक्तिपीठ माने जाने वाली शतखीरा के जेशोरेश्वरी मंदिर जाएंगे. उसी दिन मतुआ समुदाय के ओराकांडी स्थित मठ भी जाएंगे.

कोरोना काल में पहली बार विदेश दौरे पर PM मोदी, बांग्‍लादेश में मुजीबुर रहमान के जन्‍मशती कार्यक्रम में लेंगे हिस्‍सा

26 मार्च को नेशनल डे परेड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्य अतिथि हैं (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) कोविड काल में पहली बार विदेश दौरे पर बांग्लादेश (Bangla Desh) जा रहे हैं. बांग्लादेश की आज़ादी की लड़ाई के 50 साल पूरे होने के और शेख़ मुजीबुर रहमान की जन्मशती के मौक़े पर बांग्लादेश में विशेष कार्यक्रम हो रहे हैं. 26 तारीख़ को नेशनल डे परेड में प्रधानमंत्री मुख्य अतिथि हैं. दोनों देशों के साझा इतिहास पर इस दौरे में ज़ोर दिया जा रहा है. पीएम मोदी इस दौरे पर शहीद स्मारक जाएंगे और बंगबंधु-बापू म्यूज़ियम का उद्घाटन भी करेंगे. दोनों देशों के नेताओं के बीच और डेलीगेशन लेवल बातचीत भी होगी. स्वास्थ्य से लेकर स्टार्ट अप, और तीस्ता जैसे मसलों पर भी बात होगी. 

प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के कोरोना से शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की

दूसरे दिन पीएम मोदी ढाका से 300 KM की दूरी पर शक्तिपीठ माने जाने वाली शतखीरा के जेशोरेश्वरी मंदिर जाएंगे. उसी दिन मतुआ समुदाय के ओराकांडी स्थित मठ भी जाएंगे. यहीं पर मतुआ समुदाय की नींव रखने वाले हरिचंद ठाकुर का जन्म हुआ था. मतुआ समुदाय का पश्चिम बंगाल के चुनाव में भी बहुत महत्व है क्योंकि माना जाता कि 35-50 सीट पर वो निर्णायक हो सकते हैं.


''मेरी शुभकामनाएं राष्‍ट्रपति बाइडेन तक पहुंचाएं'': अमेरिकी रक्षा मंत्री के साथ बैठक में बोले PM मोदी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


 सूत्रों ने कहा कि हसीना शुक्रवार सुबह ढाका के हजरत शाह जलाल इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर मोदी की अगवानी करेंगी. उन्होंने कहा कि दो दिवसीय दौरे के दौरान मोदी शनिवार को दक्षिण-पश्चिम स्थित सतखीरा और गोपालगंज के जेशोरेशवरी एवं ओरकांडी मंदिरों में दर्शन के लिए जाएंगे. ईश्वरीपुर गांव स्थित प्रचीन जेशोरेश्वरी काली मंदिर के पुजारी दिलीप मुखर्जी ने कहा, “इस ऐतिहासिक मंदिर में मोदी के स्वागत के लिए हमने सभी तैयारियां की हैं. हम आशा करते हैं कि वह भारत और बांग्लादेश के लाखों लोगों के लिए प्रार्थना करेंगे.” (इनपुट भाषा से भी)