UK और साउथ अफ्रीका में मिले कोरोना के नए स्ट्रेन पर प्रभावी है Pfizer की वैक्सीन : स्टडी

Pfizer और BioNTech ने साथ में मिलकर कोविड-19 के खिलाफ एक टीका बनाया है, जो एक स्टडी के मुताबिक, म्यूटेंट कोरोनावायरस के खिलाफ भी प्रभावकारी है.

UK और साउथ अफ्रीका में मिले कोरोना के नए स्ट्रेन पर प्रभावी है Pfizer की वैक्सीन : स्टडी

Pfizer और BioNTech ने मिलकर बनाया है कोविड-19 के खिलाफ टीका.

नई दिल्ली:

Covid-19 Vaccine : अमेरिकी फार्मा कंपनी Pfizer और जर्मन जैवप्रौद्योगिकी कंपनी BioNTech की ओर से संयुक्त रूप से निर्मित कोविड-19 टीका, कोरोना वायरस के उस नए प्रकार से सुरक्षा दे सकता है जो पहले ब्रिटेन और फिर दक्षिण अफ्रीका में पाया गया.
एक नए अध्ययन में यह जानकारी सामने आई है. ‘नेचर मेडिसिन' नाम के रिसर्च पेपर में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, कोरोना वायरस के ‘एन501वाई' और ‘ई484के' म्यूटेशन पर यह टीका प्रभावी है.

अमेरिका के टेक्सास विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों समेत विशेषज्ञों के दल के अनुसार, टीके का वायरस के ई484के म्यूटेशन पर पड़ने वाला प्रभाव एन501वाई म्यूटेशन पर पड़ने वाले प्रभाव से थोड़ा कम है.


रिसर्च पर टिप्पणी करते हुए ब्रिटेन के वारविक विश्वविद्यालय के वायरस विशेषज्ञ लॉरेंस यंग ने कहा कि इन नतीजों से, पहले किए गए अध्ययन की पुष्टि होती है जिसमें फाइजर के टीके को ब्रिटेन में पाए गए प्रकार के प्रति प्रभावी बताया गया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ब्रिटेन के नॉटिंघम विश्वविद्यालय में मॉलिक्यूलर वायरोलॉजी के प्रोफेसर जोनाथन बॉल ने भी कहा कि अध्ययन से प्राप्त नतीजे सही हैं. चूंकि कोरोनावायरस लगातार बदल रहा है, ऐसे में विशेषज्ञों ने इस वैक्सीन की प्रभावकारिता पर लगातार नजर रखने का फैसला किया है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)