केरल में समय से पहले पहुंच सकता है मॉनसून : मौसम विज्ञान विभाग

 मॉनसून की नई सामान्य तारीखों के मुताबिक दक्षिण-पश्चिम मानसून 22 मई के आसपास अंडमान सागर में पहुंचेगा.

केरल में समय से पहले पहुंच सकता है मॉनसून : मौसम विज्ञान विभाग

प्रतीकात्‍मक फोटो

नई दिल्‍ली:

केरल में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून समय पूर्व 31 मई को पहुंच सकता है. आमतौर पर राज्य में मॉनसून एक जून को आता है. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की ओर से बताया गया, ‘‘इस वर्ष दक्षिण-पश्चिम मॉनसून केरल में 31 मई को पहुंच सकता है.'' भारतीय मॉनसून क्षेत्र में, मानसून की शुरुआती बारिश दक्षिण अंडमान सागर से होती है और उसकी बाद मॉनसून हवाएं उत्तर-पश्चिम दिशा में बंगाल की खाड़ी की ओर बढ़ती हैं.
 मानसून की नई सामान्य तारीखों के मुताबिक दक्षिण-पश्चिम मॉनसून 22 मई के आसपास अंडमान सागर में पहुंचेगा.
गौरतलब है कि विभाग ने इस वर्ष मॉनसून सामान्य रहने का अनुमान जताया है.

गौरतलब है कि केरल के कोच्चि शहर समेत कई इलाकों में शुक्रवार को भारी बारिश (Kerala Heavy Rainfall) और जलजमाव हुआ. समुद्र में ऊंची लहरें उठीं और मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई थी. भारी बारिश से सामान्य जनजीवन ठप हो गया है. चेल्लानम, कन्नामाली, मानेसरी समेत कई इलाकों में घरों में पानी घुस गया. इससे लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा.केरल में भारी बारिश के चलते पानी छोड़ने के लिए एर्नाकुलम डिस्ट्रिक्‍ट में Bhoothathankettu बांध के चार द्वार खोलने पड़े हैं. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com