कोरोना संकट के बीच आज से शुरू हो रहा है संसद का मॉनसून सत्र, लोकसभा स्पीकर ने लिया तैयारियों का जायजा

स्पीकर ओम बिरला ने संसद सदस्यों के लिए संसदीय सौध स्थित स्थापित कोविड -19 टेस्टिंग व्यवस्था का दौरा किया और वहां उपलब्ध तैयारियों का जायजा लिया.

कोरोना संकट के बीच आज से शुरू हो रहा है संसद का मॉनसून सत्र, लोकसभा स्पीकर ने लिया तैयारियों का जायजा

रविवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संसद परिसर का दौरा किया.

नई दिल्ली:

Parliament Monsoon Session : संसद का मानसून सत्र आज से शुरू हो रहा है. रविवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संसद परिसर का दौरा कर स्वास्थ्य सुरक्षा उपायों तथा अन्य तैयारियों का जायजा लिया. लोकसभा स्पीकर ने एंट्री गेट से लेकर सभा कक्ष तक एक-एक स्थान को बारीकी से देखा और जो भी कमियां दिखाई दी उन्हें तत्काल दूर करने को कहा. उन्होंने सबसे पहले प्रवेश द्वार का निरीक्षण किया तथा वहां लगाए गए थर्मल कैमरा की कार्यप्रणाली को समझा.

इस दौरान प्रवेश द्वार पर तैनात प्रत्येक कर्मचारी को भी सैनेटाइजर उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए. इसके बाद स्पीकर ने सभा कक्ष, काॅरीडोर, इनर लाॅबी, आउटर लाॅबी, वेटिंग हाॅल, मीडिया स्टैंड और परिसर में अन्य स्थानों को देखा तथा छोटी-मोटी कमियों को दूर करने के निर्देश दिए. 

यह भी पढ़ें- संसद का मॉनसून सत्र  14 सितम्बर से 1 अक्टूबर तक, बिना छुट्टी के चलेगी संसद की कार्यवाही

निरीक्षण के बाद लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि संसद का मानसून सत्र विपरीत परिस्थितियों में आयोजित किया जा रहा है. मानसून सत्र के लिए स्वास्थ्य सुरक्षा के माकूल इंतजाम किए गए हैं. केंद्र सरकार की गाइडलाइंस तथा विशेषज्ञ संस्थानों के सुझावों का पालन करते हुए सभी स्थानों पर सैनीटाइजेशन व अन्य व्यवस्थाएं माकूल रहें, यह सुनिश्चित किया गया है. 

यह भी पढ़ें- सोनिया और राहुल गांधी संसद के मानसून सत्र के पहले चरण में नहीं होंगे शामिल

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने विश्वास जताया कि सदन का संचालन निर्बाध तथा व्यवस्थित रहेगा तथा सभी दलों के सहयोग से संसद पूर्व की भांति कार्य उत्पादकता हासिल करने में सफल रहेगी.

ओम बिरला ने बताया कि सत्र से पूर्व सभी सांसदों व उनके परिजनों का कोविड टेस्ट करवाया गया. सभी सांसदों को सैनेटाइजर, मास्क, ग्लव्ज सहित अन्य स्वास्थ्य सुरक्षा संबंधी सामग्री की किट भेजी गई है. संसद के सभी अधिकारियों-कर्मचारियों का भी टेस्ट करवाया गया. सत्र की पूरी अवधि के दौरान परिसर में टेस्ट की सुविधा रहेगी. यदि किसी सदस्यों को स्वास्थ्य संबंधी शिकायत होती है तो उनके उचित उपचार की पूरी व्यवस्था की गई है.

यह भी पढ़ें- संसद के मॉनसून सत्र पर Covid-19 की छाया, उम्रदराज सांसद शायद ही ले पाएंगे हिस्सा

स्पीकर ने यह भी बताया कि संसद परिसर में एक नियंत्रण कक्ष लगातार सेवारत है जो सांसदों की कोविड -19 जरूरतों का निवारण करेगा.  

इससे पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने रविवार सुबह संसदीय सौध में बिजनेस एडवाइजरी कमेटी की बैठक की अध्यक्षता की. इस सन्दर्भ में उन्होंने मीडिया को बताया कि  बैठक में इस बात पर जोर दिया गया कि असाधारण परिस्थितियों में स्वास्थ्य संबंधी प्रोटोकाॅल्स की पालना करते हुए सत्र के दौरान विधायी विषयों पर अधिक से अधिक सार्थक एवं सकारात्मक चर्चा हो. सभी दलों ने विधायी कार्यों व अन्य विषयों में अधिकतम सहयोग के लिए आश्वस्त किया है. सभी सांसद संवैधानिक दायित्वों की पूर्ति के लिए कटिबद्ध हैं.

यह भी पढ़ें- मॉनसून सत्र से पहले कांग्रेस सांसदों की बैठक, चीनी घुसपैठ मुद्दे पर पीएम मोदी को घेरने की तैयारी


ओम बिरला ने संसद सदस्यों के लिए संसदीय सौध स्थित स्थापित कोविड -19 टेस्टिंग व्यवस्था का दौरा किया और वहां उपलब्ध तैयारियों का जायजा लिया.

सोमवार से संसद का मॉनसून सत्र

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com