मालाबार युद्धाभ्यास : चीन से तनाव के बीच समुद्र में अपनी ताकत दिखाएगा भारत, US पोत भी होगा शामिल

बता दें कि यह युद्धाभ्यास ऐसे समय पर चल रहा है, जब भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव है. गतिरोध को खत्म करने के लिए दोनों देशों के बीच कई दौर की बैठकें हो चुकी हैं.   

मालाबार युद्धाभ्यास : चीन से तनाव के बीच समुद्र में अपनी ताकत दिखाएगा भारत, US पोत भी होगा शामिल

17 से 20 नवंबर तक चलेगा मालाबार अभ्यास का दूसरा चरण (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

अरब सागर में आज से मालाबार युद्धाभ्यास (Malabar Exercise) का दूसरा चरण शुरू हो रहा है. इस युद्धाभ्यास में भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया की नौसेना हिस्सा ले रही हैं. पहला फेज बंगाल की खाड़ी में 3 से 6 नवंबर तक हुआ था और दूसरा चरण 20 नवंबर तक चलेगा. इस अभ्यास में भारतीय नौसेना विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य (INS Vikramaditya) उतरेगी तो अमेरिकी नौसेना अपने एयरक्राफ्ट कैरियर निमित्ज के साथ होगी. मिग 29 और अमरीकी एयरक्राफ्ट एफ 18 भी साथ में होंगे. 

बता दें कि यह युद्धाभ्यास ऐसे समय पर चल रहा है, जब भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव है. गतिरोध को खत्म करने के लिए दोनों देशों के बीच कई दौर की बैठकें हो चुकी हैं.   

अभ्यास में देसी पनडुब्बी खंडेरी और निगरानी विमान पी 8 आई भी शामिल होगा. विमानवाहक पोत के अलावा युद्धपोत, पनडुब्बी और एयरक्राफ्ट इस अभ्यास में हिस्सा लेंगी. अभ्यास में हिस्सा लेने वाले चारों देशों ने हिंद प्रशांत सागर में चीन (China) के प्रभाव के खिलाफ क्वाड (Quad) नाम से ग्रुप बनाया हुआ है. इस अभ्यास से चीन बौखलाया हुआ है.

मालाबार सीरीज अभ्यास भारत और अमेरिका की नौसेना के बीच 1992 से शुरू हुआ है. यह अभ्यास हर साल होता है. पिछली बार जापान में यह अभ्यास हुआ था. यह 24 वां एडिशन है, जिसमें पहली बार ऑस्ट्रेलिया की नौसेना हिस्सा ले रही है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com