लुप्तप्राय गिद्धों की हो रही थी तस्करी, ट्रेन में प्‍लास्टिक की थैलियों में लिपटे मिले मिस्र के गिद्ध

सुल्तानपुर-मुंबई सुपरफास्ट एक्सप्रेस के द्वितीय श्रेणी के स्लीपर कोच में यात्रियों ने दुर्गंध और पक्षियों की आवाज आने की शिकायत की थी, जिसके बाद आरपीएफ और वन विभाग की टीम ने कार्रवाई करते हुए गिद्ध बरामद किए.

लुप्तप्राय गिद्धों की हो रही थी तस्करी, ट्रेन में प्‍लास्टिक की थैलियों में लिपटे मिले मिस्र के गिद्ध

दुर्लभ और लुप्‍तप्राय गिद्धों को उत्तर प्रदेश से महाराष्‍ट्र ले जाया जा रहा था.

भोपाल:

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के खंडवा जिले (Khandwa District) में पुलिस ने एक अंतरराज्यीय गिद्ध तस्करी रैकेट (Inter state vulture smuggling racket) का भंडाफोड़ किया है. साथ ही पुलिस ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव के रहने वाले एक 60 साल के शख्‍स को गिरफ्तार किया है. आरोपी को कानपुर से महाराष्ट्र के मालेगांव तक मिस्र के सात लुप्तप्राय गिद्धों की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

सुल्तानपुर-मुंबई सुपरफास्ट एक्सप्रेस के द्वितीय श्रेणी के स्लीपर कोच में यात्रियों ने दुर्गंध और पक्षियों की आवाज आने की शिकायत की थी, जिसके बाद अधिकारी सतर्क हो गए. रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) और राज्य वन विभाग की संयुक्त टीम ने कार्रवाई करते हुए कोच की घेराबंदी और तलाशी ली, जिसके बाद प्‍लास्टिक की थैलियों में गिद्ध पाए गए.

'कोरोना से डर नहीं, धारा 144 से भी नहीं' : मध्‍य प्रदेश के पूर्व CM के सांसद बेटे का अजीब बयान, देखें VIDEO

खंडवा वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी अनिल शुक्ला ने एनडीटीवी को बताया कि हमें खंडवा आरपीएफ से फोन आया था कि एक व्यक्ति को मिस्र के गिद्धों के साथ है. हम तुरंत वहां पहुंचे. वन विभाग और आरपीएफ की संयुक्त टीम ने ट्रेन पर छापा मारा और फरीद शेख को गिरफ्तार कर लिया. हमें उसके पास से मिस्र के सात गिद्ध मिले हैं. 

VIDEO: मध्यप्रदेश में एसडीएम से सवाल पूछने पर पत्रकार की पिटाई, वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

उस शख्‍स को पक्षियों के साथ पुलिस स्टेशन ले जाया गया. तस्कर फरीद शेख ने पूछताछ में बताया कि उसे ये गिद्ध कानपुर स्‍टेशन पर समीर खान ने दिए थे. वह कानपुर का ही  रहने वाला है. खान ने गिद्धों को मालेगांव ले जाने के लिए कहा था. 

समीर खान ने गिद्धों को ले जाने के लिए शेख को 10 हजार रुपये देने के लिए कहा था. वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है और मामले की जांच शुरू कर दी गई है. वहीं गिद्धों को वन विभाग को सौंप दिया गया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मध्यप्रदेश में एसडीएम से सवाल पूछने पर पत्रकार की पिटाई, वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल | पढ़ें