कपिल सिब्‍बल ने कहा, 'सांप्रदायिक टच देने की नीयत से CAA लाया गया'

CAA पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का विचार है कि जो अवैध घुसपैठिए हैं उनको आप क्यों नागरिकता देते हो. हम चाहते हैं कि जिन हिन्दू भाइयों का उत्पीड़न हो रहा है, उनको आप नागरिकता दें.

कपिल सिब्‍बल ने कहा, 'सांप्रदायिक टच देने की नीयत से CAA लाया गया'

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल (फाइल फोटो)

खास बातें

  • सरकार CAA को सांप्रदायिक टच देना चाहती है- कपिल सिब्बल
  • कांग्रेस नेता ने कपिल सिब्बल ने सरकार पर बोला हमला
  • कांग्रेस नेता ने कहा जिनका उत्पीड़न हो रहा है उन्हें नागरिकता मिले
नई दिल्ली:

CAA पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का विचार है कि जो अवैध घुसपैठिए हैं उनको आप क्यों नागरिकता देते हो. हम चाहते हैं कि जिन हिन्दू भाइयों का उत्पीड़न हो रहा है, उनको आप नागरिकता दें. चाहे वो श्रीलंका से हों, नेपाल से हों, भूटान से हों. आप सभी को नागरिकता दें. आपने उनको नज़रअंदाज कर दिया क्योंकि चुनाव आने वाले हैं. इसलिए आपने नेपाल, भूटान, श्रीलंका और म्यांमार को नहीं चुना क्योंकि आप इस मुद्दे को एक सांप्रदायिक टच देना चाहते हैं.

राष्‍ट्रपति के अभिभाषण पर राज्‍यसभा में चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने नागरिकता कानून (CAA) और एनपीआर (NPR) को लेकर विपक्ष पर जमकर हमला बोला था. पीएम मोदी ने कहा था कि NPR 2010 में आया फिर विपक्ष अब क्यों लोगों को बेवकूफ बना रहा है? पीएम ने कहा कि 'एनपीआर लाने वाले अब गलत सूचना फैला रहे हैं. यह 2010 में किया गया था, हम 2014 में आए... हमारे पास सभी रिकॉर्ड हैं. आप झूठ क्यों बोल रहे हैं? आप लोगों को मूर्ख क्यों बना रहे हैं? उन्होंने कहा कि जनगणना और एनपीआर सामान्य गतिविधियां है जो देश में पहले भी होती रही हैं, लेकिन जब वोटबैंक राजनीति की मजबूरी हो, तो खुद एनपीआर को 2010 में लाने वाले, आज लोगों में भ्रम फैला रहे हैं.

राज्यसभा में PM मोदी का विपक्षी दलों पर हमला- 'NPR 2010 में आया फिर अब क्यों...'

प्रधानमंत्री मोदी ने समाजवादी नेता राम मनोहर लोहिया और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के उन बयानों को भी उद्धृत किया, जिनमें पाकिस्तान में उत्पीड़न के शिकार अल्पसंख्यकों का समर्थन किया गया था. मोदी ने कहा, 'क्या देश को गुमराह करना और गलत जानकारी देना सही है? क्या ऐसा करने वाला कोई भी व्यक्ति किसी अभियान का हिस्सा हो सकता है? सीएए पर कई विपक्षी दलों ने जो रास्ता चुना है वह दुर्भाग्यपूर्ण है.'

इससे पहले राज्यसभा में अपने भाषण के दौरान मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh) ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा था. दिग्विजय सिंह ने सीएए पर सवाल उठाते हुए कहा, ''ये लाया क्यों गया नागरिकता कानून, इसे लाने की आवश्यकता क्या थी? आपको जिसको मरजी थी उसको नागरिकता दे देते किसने मना किया था. आपने क्या अदनान स्वामी को नागरिकता नहीं दी थी, दी थी न आप लोगों ने..'' दिग्विजय सिंह ने कहा, ''आप इस बात को फिर से हिंदू मुस्लमानों में बांटना चाहते हैं. नागरिकता कानून लाने की आवश्यकता नहीं थी. नागरिकता कानून केवल एक समुदाय को भयभीत करने के लिए लाया गया है. आपने बंटवारा लाने की शुरुआत की.'' उन्‍होंने कहा, ''जो हालात देश में है उसका मैं आपकी विचारधारा को दोष देता हूं. बचपन से दिमाग में नफरत पैदा की जा रही है. आज लड़ाई विचारधारा की है. एक तरफ प्रेम और सदभाव है तो दूसरी तरह नफरत और नफरत से पैदा होने वाली हिंसा है.''


राज्यसभा में PM मोदी का विपक्षी दलों पर हमला- 'NPR 2010 में आया फिर अब क्यों...'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कब तक देश की पहचान का अपमान सहते रहेंगे- महबूबा मुफ्ती