भारत ने कोरोना से लड़ाई में काम आने वाली 'टोसिलिजुमैब' का किया आयात, महाराष्ट्र को दी सबसे ज्यादा खुराक

कोरोना से जंग में काम आने वाली इस दवा की सबसे ज्यादा 800 खुराक महाराष्ट्र को दी गई है. बता दें कि महाराष्ट्र कोरोनावायरस से सर्वाधिक प्रभावित राज्य है.

भारत ने कोरोना से लड़ाई में काम आने वाली 'टोसिलिजुमैब' का किया आयात, महाराष्ट्र को दी सबसे ज्यादा खुराक

महाराष्ट्र को टोसिलिजुमैब की सबसे ज्यादा 800 खुराक दी गई (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से लड़ाई के लिए केंद्र सरकार ने कमर कस ली है. सरकार ने कोरोना से लड़ाई में काम आने वाली महत्वपूर्ण दवा टोसिलिजुमैब (Tocilizumab) सीमित मात्रा में आयात किया. भारत में मार्केटिंग और डिस्ट्रीब्यूशन का अधिकार सिपला को दिया गया है. केंद्र द्वारा राज्यों को टोसिलिजुमैब आवंटित किया गया है. राज्य सरकारें सरकारी और निजी अस्पतालों को टोसिलिजुमैब आवंटित करेंगी. 

कोरोना से जंग में काम आने वाली इस दवा की सबसे ज्यादा 800 खुराक महाराष्ट्र को दी गई है. बता दें कि महाराष्ट्र कोरोनावायरस से सर्वाधिक प्रभावित राज्य है. महाराष्ट्र में ही  कोरोना के सबसे ज्यादा मामले आ रहे हैं. मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 66,358 नए मामले दर्ज किए गए जबकि इस दौरान 895 लोगों की कोविड-19  की वजह से मौत हो गई. यह एक दिन में अब तक का सबसे ज्यादा आंकड़ा है. 

दिल्ली को 500 खुराक, गुजरात, मध्य प्रदेश, पंजाब-चंडीगढ़, तमिलनाडु, केंद्रीय संस्थानों को 200-200 खुराक दी गई है. हरियाणा, तेलंगाना को 160-160, यूपी को 150, कर्नाटक, राजस्थान को 100-100, आंध्र प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़, केरल को 50-50, झारखंड, ओडिशा और उत्तराखंड को 25-25 खुराक दी गई है. केंद्र सरकार ने राज्यों से कहा कि इसका बहुत सोच समझ कर इस्तेमाल करें.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com