आगरा में Oxygen के लिए पुलिसकर्मियों के आगे गिड़गिड़ाता रहा शख्स, मार्मिक Video सामने आया 

Agra के इस Video में पीपीई किट पहने शख्स लगातार रोते-गिड़गिड़ाते पुलिसकर्मियों के पैरों पर गिर पड़ा और हाथ जोड़कर अपने परिजन के लिए ऑक्सीजन का इंतजाम करने की गुहार लगाता रहा. 

आगरा में Oxygen के लिए पुलिसकर्मियों के आगे गिड़गिड़ाता रहा शख्स, मार्मिक Video सामने आया 

video कथित तौर पर आगरा के एक निजी अस्पताल का है.

आगरा:

देश में ऑक्सीजन का संकट 7-10 दिन बाद भी खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. ऑक्सीजन के जरिये अपनों की जान बचाने के लिए लोग क्या-क्या जतन नहीं कर रहे हैं. ऐसा ही एक वीडियो आगरा में सामने आया, जिसमें पीपीई किट पहने एक शख्स सड़क पर घुटनों के बल बैठा है और पुलिसकर्मियों के आगे गिड़गिड़ा रहा है ताकि ऑक्सीजन सिलेंडर (oxygen cylinder) का इंतजाम हो सके. हालांकि कुछ रिपोर्ट में कहा गया है कि वह व्यक्ति उसकी मां को दिए गए ऑक्सीजन सिलेंडर को न हटाने की गुहार लगा रहा था.

हालांकि पुलिस का दावा है कि जब खाली सिलेंडर निकाल कर ले जाया जा रहा था तो वह शख्स ऐसे ही सिलेंडर की मांग को लेकर विनती कर रहा था. वायरल वीडियो (viral video) में वह शख्स लगातार हाथ जोड़े घुटनों के बल बैठे दिखाई दे रहा है.
पीड़ित हिन्दी में कह रहा था, आपके चरणों में विनती करता हूं,... भैया मेरी मां को बचा लो. वो लगातार रोता ही रहा, जब तक एक व्यक्ति उसको घसीटकर वहां से लेकर नहीं गया, जो उसके परिवार का व्यक्ति प्रतीत हो रहा था. तभी दो व्यक्ति सिलेंडर ले जाते हुए वहां से दिखाई दिए.


यह वाकया आगरा के निजी अस्पताल उपाध्याय हास्पिटल का है. यूथ कांग्रेस ने भी यह वीडियो साझा किया है, जिसमें यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) पर निशाना साधा गया है. गौरतलब है कि यूपी में भी कोरोना के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा है कि कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़ रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सभी जिलों में रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू और साप्ताहिक बंदी प्रभावी है. संक्रमण प्रसार को कम करने में कोरोना कर्फ्यू बहुत उपयोगी हो रही है. ऐसे में अब शुक्रवार रात्रि 8 बजे से मंगलवार प्रातः 7 बजे तक साप्ताहिक बन्दी होगी. इस अवधि में केवल आवश्यक और अनिवार्य सेवाएं ही जारी रहेंगी. औद्योगिक गतिविधियां और वैक्सीनेशन कार्य साप्ताहिक बंदी में भी जारी रहेंगी. इस व्यवस्था को तत्काल प्रभाव से लागू किया जाएगा.