गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी कोरोना वायरस से संक्रमित

रविवार को 64 वर्षीय रूपाणी वड़ोदरा में नगर निकाय चुनाव के लिए एक रैली को संबोधित करने के दौरान मंच पर बेहोश हो गए थे. उन्हें विमान से अहमदाबाद लाया गया था और यू एन मेहता हार्ट अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी कोरोना वायरस से संक्रमित

गुजरात के मुख्यमंत्री (Gujarat Chief Minister) विजय रूपाणी की हालत फिलहाल स्थ‍िर है

अहमदाबाद:

गुजरात के मुख्यमंत्री (Gujarat Chief Minister) विजय रूपाणी (Vijay Rupani) सोमवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित पाए गए. उन्हें एक रैली में बेहोश होने के बाद एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अहमदाबाद के अस्पताल ने सोमवार को बताया कि मुख्यमंत्री में संक्रमण के मामूली लक्षण हैं और उनकी स्थिति स्थिर है. रविवार को 64 वर्षीय रूपाणी वड़ोदरा में नगर निकाय चुनाव के लिए एक रैली को संबोधित करने के दौरान मंच पर बेहोश हो गए थे. उन्हें विमान से अहमदाबाद लाया गया था और यू एन मेहता हार्ट अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्पताल की ओर से जारी स्वास्थ्य बुलेटिन में बताया गया है कि रूपाणी का नमूना रविवार रात को लिया गया था और आरटी-पीसीआर जांच के लिए भेजा गया था. जांच रिपोर्ट में मुख्यमंत्री के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई. बुलेटिन में बताया गया है कि उनमें संक्रमण के मामूली लक्षण हैं और उनकी हालत स्थिर है.

परेशान करने वाले हैं मुंबई और महाराष्‍ट्र में कोविड-19 के बढ़ते केस..

अस्पताल ने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री थकान और शारीरिक कमजोरी की वजह से रविवार को बेहोश हो गए थे. बुलेटिन में बताया गया है कि उनकी ईसीजी, रक्तचाप और अन्य जांचें की गई थीं, जो सामान्य हैं. राज्य के उपमुख्यमंत्री नितिन पेटल ने पत्रकारों को बताया कि रविवार रात को फैसला किया गया कि रूपाणी को 24 घंटे निगरानी में रखा जाए. स्वास्थ्य मंत्रालय का प्रभार संभालने वाले पटेल ने कहा, "उनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद, उनका प्रोटोकॉल के मुताबिक, संक्रमण का इलाज किया जा रहा है."

उन्होंने बताया कि फैसला किया गया कि उनसे मिलने की किसी को अनुमति न दी जाए. पटेल ने बताया कि रूपाणी को पिछले कुछ दिनों से हल्का बुखार था और वह दवाई ले रहे थे. उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री को मधुमेह या रक्तचाप जैसी पहले से कोई बीमारी नहीं है. पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री की नियमित स्वास्थ्य जांच होगी और जरूरत के मुताबिक उन्हें इलाज दिया जाएगा. उन्हें अस्पताल से छुट्टी देने का फैसला डॉक्टर करेंगे.

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि रूपाणी रविवार को रैली में थकान और नींद पूरी नहीं होने की वजह से बेहोश हुए. बीते एक हफ्ते से वह काफी व्यस्त थे. रूपाणी ने बीते दो दिनों में भावनगर, जामनगर और वडोदरा में रैलियों को संबोधित किया है. उन्होंने कहा कि वह नियमित रूप से भाजपा के राज्य संसदीय बोर्ड की बैठकों में भाग ले रहे थे और आगामी स्थानीय निकाय चुनावों के मद्देनजर टीवी चैनलों को साक्षात्कार भी दे रहे थे.


पटेल ने यह भी बताया कि कच्छ से भाजपा सांसद विनोद चावड़ा और राज्य पार्टी के महासचिव भीखू डालसानिया भी कुछ दिनों पहले कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे. उन्होंने बताया कि दोनों का इलाज यूएन मेहता हार्ट अस्पताल में चल रहा है. राज्य के छह नगर निगमों-- अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत, राजकोट, जामनगर और भावनगर-- के लिए 21 फरवरी को चुनाव होगा. इसके अलावा, गुजरात की अन्य नगर पालिकाओं, जिला पंचायतों और तालुका पंचायतों के लिए 28 फरवरी को चुनाव होगा.

क्यों परेशान करने वाले हैं मुंबई में बढ़ते कोविड-19 के केस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)