ग्रे. नोएडा : पशुओं के लिए चारा लेने गई 55 साल की दलित महिला से गैंगरेप, आरोपी फरार

गैंगरेप के इस केस में मुख्य आरोपी पीड़ित के गांव का ही है. वह अपने जानवर खेतों में चराता था और गांजा पीने का आदी है. उसकी पहचान हो गई है उसके साथ अन्य 3 लोग जो थे उनकी पहचान की जा रही है. उनकी गिरफ्तारी के लिए कई टीमें गठित की गई हैं.

ग्रे. नोएडा : पशुओं के लिए चारा लेने गई 55 साल की दलित महिला से गैंगरेप, आरोपी फरार

ग्रेटर नोएडा में 55 साल की महिला के साथ गैंगरेप की घटना

नई दिल्ली:

ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के कोतवाली जेवर के एक गांव में पशुओं के लिए चारा लेने गईं एक 55 साल की दलित महिला को चार लोगों ने हथियारों के बल पर बंधक बनाया और खेतों में ले जाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. महिला को बेहोशी की हालत में छोड़कर मौके से फरार हो गए. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को गंभीर अवस्था में नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया है.  पुलिस ने पीड़ित महिला की पति की शिकायत पर चार लोगों के खिलाफ गैंगरेप, एससी-एसटी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है.


नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती गैंगरेप की शिकार पीड़ित महिला से मिलने पहुंची डीसीपी महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने कहा कि एक आरोपी की पहचान हो गई है अन्य की तलाश की जा रही है, शीघ्र ही इनकी गिरफ्तारी की जाएगी. महिला के परिजनों का कहना है कि दलित महिला जेवर एयरपोर्ट के लिए अधिग्रहित की गई जमीन से पशुओं के लिए चारा लेने गई थी.  इसी बीच चार लोग वहां पहुंच गए और महिला को अकेला देख चारों ने हथियारों के बल पर बंधक बना लिया और गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया.  विरोध करने पर महिला के साथ बुरी तरह मारपीट की गई और आरोपियों ने जाति सूचक शब्द का इस्तेमाल करते हुए उसे धमकाया,  कि अगर उसने इस बात की जिक्र किसी से किया तो उसे जान से मार देंगे. आरोपियों ने महिला के साथ वीभत्स तरीके से दुष्कर्म किया जिससे महिला को गंभीर चोटें आईं और वह बेहोश हो गई.  उसे बेहोश देख और आरोपी घबरा गए और मौके से फरार हो गए. होश आने पर महिला किसी तरह अपने घर पहुंची और घटना की जानकारी परिवार वालों को दी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दलित महिला के साथ गैंगरेप की खबर फैलते ही पुलिस महकमे हड़कंप मच गया. डीसीपी महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने पीड़ित महिला से मुलाकात की और महिला की गंभीर हालत को देखते हुए नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया.  वृंदा शुक्ला का कहना है कि पीड़ित परिवार की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.  मुख्य आरोपी पीड़ित के गांव का ही है. वह अपने जानवर खेतों में चराता था और गांजा पीने का आदी है. उसकी पहचान हो गई है उसके साथ अन्य 3 लोग जो थे उनकी पहचान की जा रही है. उनकी गिरफ्तारी के लिए कई टीमें गठित की गई हैं. महिला का मेडिकल कराया गया है, लेकिन उनकी स्थिति गंभीर, लेकिन स्थिर बनी हुई है.  आरोपियों को शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.