बंगाल में किसी ने सिर मुंडवाया तो किसी ने छिड़का सैनिटाइजर;  BJP से TMC में यूं हो रही घर वापसी

आज बीरभूम जिले में तृणमूल कांग्रेस का झंडा थामने से पहले बीजेपी के 150 कार्यकर्ताओं पर सैनिटाइजर का छिड़काव किया गया. स्विचओवर कार्यक्रम आयोजित करने वाले पार्टी के स्थानीय नेता ने कहा कि वह "इन लोगों से बीजेपी के बग को साफ करना चाहते हैं."

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल (West Bengal) विधान सभा चुनाव के बाद बंगाल बीजेपी (BJP) में भगदड़ की स्थिति है. कोई अपना सिर मुंडवाकर तो कोई खुद को सैनिटाइजर में डुबो कर बीजेपी से टीएमसी (TMC) में घर वापसी कर रहा है. यह पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं के लिए शर्म की बात है. 2019 के आम चुनावों से पहले भाजपा में शामिल तृणमूल कांग्रेस के शीर्ष लेफ्टिनेंट मुकुल रॉय की घर वापसी तो आसान रही लेकिन पार्टी के कई साधारण कार्यकर्ताओं के लिए यह इतना आसान नहीं है.

जिन लोगों को तृणमूल में वापस स्वीकार किया जा रहा है, वे उन शक्तियों को खुश करने के लिए वफादारी और साष्टांग प्रणाम के गंभीर परीक्षणों से गुजरते हुए देखे गए हैं. हाल ही में, हुगली में पार्टी के झंडे की अदला-बदली करने पर बीजेपी के छह कार्यकर्ताओं ने अपने बाल मुंडवा लिए.

बीजेपी के राज्यसभा सांसद स्वप्न दासगुप्ता ने इस कदम की घोर निंदा की, जो राज्य के चुनावों में असफल प्रदर्शन के बाद संसद के ऊपरी सदन में एक सीट हासिल करने में सफल रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस तरह का सार्वजनिक अपमान 1960 के चीन की याद दिलाता है.

बंगाल के विभाजन की मांग बीजेपी की बड़ी साजिश का हिस्सा : अधीर रंजन चौधरी

आज बीरभूम जिले में तृणमूल कांग्रेस का झंडा थामने से पहले बीजेपी के 150 कार्यकर्ताओं पर सैनिटाइजर का छिड़काव किया गया. स्विचओवर कार्यक्रम आयोजित करने वाले पार्टी के स्थानीय नेता ने कहा कि वह "इन लोगों से बीजेपी के बग को साफ करना चाहते हैं."


साहसपूर्वक यह घोषणा करने के बाद कि वह पश्चिम बंगाल के 294 निर्वाचन क्षेत्रों में से 200 से अधिक जीतेगी, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने मार्च-अप्रैल के चुनावों में बीजेपी को 80 से कम सीटों पर सीमित कर दिया था. उसके बाद से मुकुल रॉय के अलावा  कई दलबदलुओं ने ममता बनर्जी की टीम में वापसी की इच्छा जताई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हालांकि, घरवापसी कराने में तृणमूल धीमी और चयनात्मक रही है. मुकुल रॉय की घर वापसी समारोह में ममता बनर्जी ने कुछ हद तक गुप्त रूप से कहा, "और भी आएंगे." सूत्रों ने कहा है कि तृणमूल "लोहा गर्म देखकर वार करने को उत्सुक है" और भाजपा को तोड़ना चाहती है, जो चुनाव से पहले तृणमूल छोड़ने वाले वर्ग से बड़ा है.