देश में 95 प्रतिशत बालिग जनसंख्या को कोविड टीके की पहली खुराक, 74 फीसदी का पूर्ण टीकाकरण

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकडे के अनुसार, देश में स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम मोर्चा कर्मियों तथा अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रस्त 60 साल एवं उससे अधिक उम्र के लोगों को अब तक कोविड रोधी टीके की 1,03,04,847 एहतियाती खुराक दी गई है.

देश में 95 प्रतिशत बालिग जनसंख्या को कोविड टीके की पहली खुराक, 74 फीसदी का पूर्ण टीकाकरण

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने इस उल्लेखनीय उपलब्ध के लिए देश को बधाई दी.

नई दिल्ली:

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश के पात्र बालिग लोगों में 95 प्रतिशत को कोविड-19 रोधी टीकों की पहली खुराक दे दी गयी है जबकि 74 प्रतिशत का पूर्ण टीकाकरण किया जा चुका है. उसने कहा कि गुरुवार को शाम सात बजे तक कोविड-19रोधी टीके की 49,69,805 खुराक दी गयी तथा अबतक इस टीके की खुराक 164.35 करोड़ के पार पहुंच गयी.

Covishield और Covaxin अब अस्पतालों में उपलब्ध होंगी, DCGI से मिली अनुमति

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकडे के अनुसार, देश में स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम मोर्चा कर्मियों तथा अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रस्त 60 साल एवं उससे अधिक उम्र के लोगों को अब तक कोविड रोधी टीके की 1,03,04,847 एहतियाती खुराक दी गई है. मंत्रालय का कहना है कि 15-18 साल के 44281254 किशोरों को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक दी गयी है. देर रात अंतिम रिपोर्ट आने के बाद दैनिक टीकाकरण आंकड़ों में वृद्धि होने की संभावना है.

इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने इस उल्लेखनीय उपलब्ध के लिए देश को बधाई दी. एक ट्वीट में उन्होंने कहा कि भारत ने अपनी पात्र जनसंख्या में 95 प्रतिशत से अधिक लोगों को कोविड-19 की पहली खुराक देने का रिकार्ड हासिल किया है.

Omicron से हाहाकार, Pfizer के बाद Moderna ने शुरू किया ओमिक्रॉन के लिए तैयार वैक्सीन का ट्रायल

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में , स्वास्थ्यकर्मियों के कठिन परिश्रम और जनभागीदारी से देश इस अभियान में लगातार आगे बढ़ रहा है. पिछले साल 16 जनवरी को देश में स्वास्थ्यकर्मियों को टीके दिए जाने के साथ टीकाकरण की शुरुआत हुई थी. इसके बाद दो फरवरी 2021 से अग्रिम मोर्चे के कर्मियों का टीकाकरण शुरू किया गया. बाद के चरणों में अन्य समूहों को टीका देने की शुरुआत की गई. इस साल तीन जनवरी को 15-18 वर्ष के किशोरों को टीका देने का अभियान शुरू हुआ.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कंट्रोल रूम से 100 फीसदी Corona Vaccination की कोशिश, हर रोज किए जा रहे हजारों कॉल



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)