तस्वीरों में देखिए : कैसे किसान बैरिकैड्स तोड़ घुसे दिल्ली में, पुलिस के साथ हुई झड़प

किसानों को दिल्ली पुलिस ने रविवार को ट्रैक्टर रैली की अनुमति दी थी, लेकिन मंगलवार की सुबह को प्रदर्शनकारी किसानों ने कई जगहों पर पुलिस बैरिकैड तोड़ दिए और वक्त से पहले ही मार्च शुरू कर दिया.

तस्वीरों में देखिए : कैसे किसान बैरिकैड्स तोड़ घुसे दिल्ली में, पुलिस के साथ हुई झड़प

Tractor Rally : किसानों ने कई जगहों पर तोड़ी पुलिस बैरिकेडिंग.

नई दिल्ली:

Farmer's Tractor Rally : मंगलवार को गणतंत्र दिवस के परेड के साथ-साथ दिल्ली में कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठन ट्रैक्टर रैली निकाल रहे हैं, जिसके लिए बकायदा प्लानिंग की गई थी और रूट वगैरह तय किया गया था लेकिन मंगलवार को कुछ अलग ही तस्वीर दिख रही है. दिल्ली-हरियाणा के बीच की सीमाओं पर प्रदर्शनकारी किसानों ने कई जगह पुलिस बैरिकेडिंग तोड़ा और पैदल ही मार्च करते हुए आगे निकल गए. किसानों की कुछ जगहों पर पुलिस के साथ झड़प हुई है और पुलिस ने आंसू गैस के गोलों का भी इस्तेमाल किया है.

a1apl9to

सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर हजारों प्रदर्शनकारी किसान जुटे हुए थे, जहां पर पुलिस ने बैरिकेड्स लगा रखे थे. गणतंत्र दिवस की परेड शुरू होने के बाद किसानों की रैली शुरू होने वाली थी, लेकिन सिंघु पर किसान आउटर रिंग रोड पर रैली निकालने की जिद कर रहे थे. प्रदर्शन करते हुए किसानों ने यहां पर पुलिस बैरिकैडिंग हटा दी और हाथों में तिरंगा लिए हुए पैदल ही आगे बढ़ गए.  कुछ ऐसे ही हालात टिकरी बॉर्डर और चिल्ला बॉर्डर पर भी देखे गए.

b68v3368

सिंघू और टिकरी बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के कुछ समूह पुलिस के अवरोधकों को तोड़कर दिल्ली में दाखिल हो गए. इसके बाद ये किसान काफी समय तक मुकरबा चौके पर बैठे, लेकिन फिर उन्होंने वहां लगाए गए बैरिकेड और सीमेंट के अवरोधक तोड़ने की कोशिश की. इसके बाद किसानों के समूह पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे.

i02cqbr

इसके बावजूद कई ट्रैक्टर नजर आए, जिन पर तिंरगे लगे थे. इनके साथ पुरुष तथा महिलाएं ढोल पर नाचते नजर आए. सड़क के दोनों ओर खड़े स्थानीय लोग फूलों की बारिश भी कर रहे थे. कुछ किसान हाथ में विभिन्न किसान संगठनों के झंडे लिए और नारे लगाते पैदल चलते भी नजर आए. कुछ मोटर साइकिल और घोड़ों पर सवार थे.. लोग अपने ट्रैक्टरों के ऊपर खड़े होकर नारे लगाते और क्रांतिकारी गीत गाते भी दिखे.

1gficjk8

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि किसानों के कुछ समूह अवरोधक तोड़कर राष्ट्रीय राजधानी में दाखिल हो गए. उन्होंने कहा, ‘पुलिस और किसानों के बीच इस बात को लेकर सहमति बनी थी कि वे निर्धारित समय पर परेड शुरू करेंगे, लेकिन वे जबरन दिल्ली में दाखिल हो गए. तय मार्ग के अनुसार उन्हें बवाना की ओर जाना था लेकिन उन्होंने आउटर रिंग रोड की ओर जाने की जिद शुरू कर दी.'

a16b4f38

दिल्ली पुलिस ने वार्षिक गणतंत्र दिवस परेड के बाद किसानों को ट्रैक्टर परेड निकालने की रविवार को अनुमति दे दी थी. प्रदर्शनकारियों को कहा गया था कि वे राजपथ के जश्न को बाधित नहीं कर सकते, इस पर किसानों ने इस बात पर जोर दिया था कि उनकी परेड ‘शांतिपूर्ण' होगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(भाषा से इनपुट के साथ)