AIADMK की निष्कासित नेता शशिकला बेंगलुरु अस्पताल से डिस्चार्ज, समर्थकों ने की नारेबाजी

शशिकला को आय से अधिक संपत्ति के एक मामले में चार वर्ष की कैद की सजा पूरी करने के बाद बुधवार को जेल से रिहा कर दिया गया था. कारागार अधिकारियों ने शशिकला को 27 जनवरी को औपचारिक रूप से रिहा किया था. शशिकला की रिहाई ऐसे समय हुई है, जब तमिलनाडु में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होना है.

AIADMK की निष्कासित नेता शशिकला बेंगलुरु अस्पताल से डिस्चार्ज, समर्थकों ने की नारेबाजी

AIADMK की पूर्व नेता वी के शशिकला को रविवार, 31 जनवरी को बेंगलुरु के एक अस्पताल से छुट्टी दे गई.

खास बातें

  • अन्नाद्रमुक की पूर्व नेता शशिकला अस्पताल से डिस्चार्ज
  • कोविड-19 का बेंगलुरु अस्पताल में चल रहा था इलाज
  • चार दिन पहले ही आय से अधिक मामले के केस में सजा हुई थी पूरी
बेंगलुरु:

ऑल इंडिया अन्नाद्रमुक पार्टी (AIADMK) की निष्कासित नेता वी के शशिकला को आज (रविवार, 31 जनवरी) को बेंगलुरु के एक अस्पताल से छुट्टी दे गई.  कुछ दिनों पहले उन्हें तेज बुखार और सांस में तकलीफ के बाद भर्ती कराया गया था. बाद में उनका कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव निकला था. उसके बाद अस्पताल में उनका कोविड-19 संक्रमण का लिए इलाज चल रहा था.

बेंगलुरु मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट ने कल एक आधिकारिक बुलेटिन में यह जानकारी देते हुए बताया था, ‘‘शशिकला नटराजन ने इलाज के 10 दिन पूरे कर लिए हैं. अब वह लक्षण विहीन (एसिप्टोमेटिक) हैं और उन्हें तीन दिनों से ऑक्सीजन के बिना रखा गया. प्रोटोकॉल के अनुसार, उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी जा सकती है.'' असपताल के बयान में कहा गया था, ‘‘उनका इलाज कर रहे चिकित्सकों ने फैसला लिया कि उन्हें  छुट्टी दे दी जाय और उन्हें घर पर पृथक-वास में रहने की सलाह दी जाती है.'' 

चार वर्ष की जेल की सजा पूरी करने के बाद रिहा हुईं वी के शशिकला

आज जैसे ही दोपहर करीब 12.30 बजे शशिकला व्हील चेयर पर अस्पताल से बाहर निकलीं, उनके समर्थकों का बड़ा समूह अस्पताल के बाहर इकट्ठा हो गया. भीड़ ने उन्हें देखते ही नारे लगाने शुरू कर दिए. इस दौरान शशिकला हाथ जोड़े रहीं और समर्थकों का अभिवादन स्वीकार करती दिखीं. फिर कार में बैठकर घर चली गईं. पुलिस ने बताया कि अस्पताल के बाहर कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए 300 से अधिक पुलिकर्मी तैनात किए गए थे.

वीके शशिकला की रिहाई के तीन महीने पहले आयकर विभाग ने 1500 करोड़ रुपये की संपत्ति की जब्त


उनके नजदीकी सूत्रों ने बताया कि शशिकला के परिवार ने उन्हें चेन्नई ले जाने का फैसला किया है. उन्होंने बताया कि अस्पताल ने उन्हें कुछ और दिन पृथक-वास में रहने की सलाह दी है. तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत जे जयललिता की करीबी रहीं 66 वर्षीय शशिकला को न्यायिक हिरासत के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद विक्टोरिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


शशिकला को आय से अधिक संपत्ति के एक मामले में चार वर्ष की कैद की सजा पूरी करने के बाद बुधवार को जेल से रिहा कर दिया गया था. कारागार अधिकारियों ने शशिकला को 27 जनवरी को औपचारिक रूप से रिहा किया था. शशिकला की रिहाई ऐसे समय हुई है, जब तमिलनाडु में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होना है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)