राहुल गांधी की दस पुश्तें खत्म हो जाएं तब भी सावरकर नहीं बन सकते : स्मृति ईरानी

वाराणसी में संशोधित नागरिकता कानून के समर्थन में जनसभा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कांग्रेस को बनाया निशाना

राहुल गांधी की दस पुश्तें खत्म हो जाएं तब भी सावरकर नहीं बन सकते : स्मृति ईरानी

वाराणसी में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जोरदार हमला किया.

खास बातें

  • उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का सपा, बसपा और कांग्रेस पर हमला
  • योगी ने कहा- कांग्रेस नेतृत्व नागरिकता कानून पर भ्रम पैदा कर रहा
  • कहा- नागरिकता देने के बापू के कथन को नरेंद्र मोदी ने स्वीकार किया
वाराणसी:

वाराणसी में संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के समर्थन में जनसभा हुई. इसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) से लेकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या भी शामिल हुए. इस सभा में स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर जमकर हमला किया. उन्होंने कहा कि ''राहुल गांधी से कहना चाहती हूं कि तुम्हारी दस पुश्तें खत्म हो जाएं तब भी सावरकर नहीं बन सकते. पाकिस्तान क्या इतना प्यारा है कि देश की पुलिस पर पत्थर मारो.'' योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ''कांग्रेस के लोगों को बोलना चाहिए कि सिमी, पीएफआई और अन्य के समर्थन में आना उनका चरित्र है.''

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि ''जम्मू-कश्मीर से कश्मीरी पंडितों को निकालने का काम हुआ.वर्षों से जो विषय ऐतिहासिक और राजनीतिक दृष्टि से समाज और राष्ट्र के सामने प्रश्न बनकर उभरा उसका जवाब प्रधानमंत्री से ही मिलना नसीब था. धर्म के आधार पर विभाजन की गोरों की सीख को कांग्रेस पार्टी ने संस्कार बना लिया. कांग्रेस पार्टी ने धर्म के आधार पर विभाजन को राष्ट्र हित में नहीं अपने हित में अपनाया. पाकिस्तान के लोगों को नागरिकता देने के बापू के कथन को नरेंद्र मोदी ने स्वीकार किया.'' उन्होंने कहा कि ''कांग्रेस के नेता पैराशूट पॉलिटिक्स करते हैं. अमेठी में नमाज पढ़ते हैं और काशी में शिवालय में आकर दर्शन करते हैं. जब जनता बोलती है तो पांव दबाकर भाग जाते हैं.''

स्मृति ने कांग्रेस से कहा कि ''पाकिस्तान क्या इतना प्यारा है कि देश की पुलिस पर पत्थर मारो. संजय राउत मुम्बई के कुख्यात अपराधी से मिलते थे. अटल जी को बंद किया और करीम लाला को छोड़ दिया. वे पर्यटक के नाते बनारस में राजनीति करने आते हैं.'' स्मृति ने कहा कि '' आज यहां उपस्थित लोगों से सविनय निवेदन है कि कांग्रेस के दुष्प्रचार को तोड़ने में बीजेपी के साथ जुड़ें और घर-घर जाकर मानवता का संदेश देने में मदद करें.'' उन्होंने कहा कि '' राहुल गांधी से कहना चाहती हूं कि तुम्हारी दस पुश्तें खत्म हो जाएं तब भी सावरकर नहीं बन सकते.''

जानिए, नागरिकता अधिनियम 1955 में क्या बदलाव करके बनाया गया है CAA

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ''देश के प्रत्येक नागरिक के मन में उत्साह और उल्लास है. हमारे लिए गौरव की बात है, जो कहा सो किया. राम लला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे, तारीख नहीं बताएंगे. अब तारीख भी बता दी है. अयोध्या में भगवान राम की मर्यादा के अनुरूप भव्य मंदिर बनने जा रहा है. कोई इसमें बाधा पैदा नहीं कर सकता. राम मंदिर के फैसले में कांग्रेस पार्टी बड़ी बाधा थी. कांग्रेस नेता ने सुप्रीम कोर्ट में फैसले के खिलाफ अर्जी दी थी.''

योगी ने कहा कि ''मोदी जी ने तीन तलाक की कुप्रथा पर रोक लगाने का काम किया है. हम प्रधानमंत्री का अभिनंदन करेंगे जिन्होंने तीन तलाक की कुप्रथा को समाप्त किया.'' कश्मीर में अनुच्छेद 370 समाप्त करने के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि ''याद कीजिए जब हमने देश के संविधान को स्वीकार किया था, 1952 में अम्बेडकर की असहमति के बावजूद उसे चुपके से डाल दिया. प्रधानमंत्री और गृहमंत्री ने उसे समाप्त कर एक भारत बनाने का काम किया है.''

तेजस्वी यादव का नीतीश कुमार पर निशाना, कहा- CAA का समर्थन कर असली संविधान विरोधी साम्प्रदायिक रंग दिखा दिया

उन्होंने कहा कि ''जो लोग पाकिस्तान में रह गए हैं, जब वो भारत आना चाहेंगे, वो आ सकेंगे. इसकी सहमति बापू ने दी थी. आज कांग्रेस का नेतृत्व इस पर भ्रम पैदा कर रहा है. नागरिकता कानून के बारे में भ्रम की स्थिति को दूर करने हमें आपके बीच आना पड़ा. इनके भ्रम में पड़ने की जरूरत नहीं है. हम सब जानते हैं कि पाकिस्तान बनाने की कीमत बाबा साहब समझ चुके थे. इस युग का सबसे बड़ा पुण्य राष्ट्रवाद है, और पाप राष्ट्र के साथ विश्वासघात है.''

योगी ने कहा कि ''नागरिकता कानून, देने का कानून है, लेने का नहीं. 19-20 दिसंबर को यूपी में कानून को हाथ में लेकर सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया.  अब नुकसान की भरपाई उन्हीं से होगी. कांग्रेस के लोगों को बोलना चाहिए कि सिमी, पीएफआई और अन्य के समर्थन में आना उनका चरित्र है. इस नागरिकता कानून को लेकर अगर गुमराह करने का प्रयास हो रहा है तो उसमें सचेत रहने की आवश्यकता है.''

मुंबई में CAA और NRC का अनोखा विरोध, जुहू बीच पर पतंगबाजी

इस मौके पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सपा, बसपा और अन्य विरोधी दलों पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि नागरिकता कानून पहले से था, अब इसमें संशोधन हुआ है. उन्होंने कहा कि ''राहुल गांधी और अखिलेश इमरान खान की भाषा बोलते हैं. कांग्रेस के नेता गरीबों का हित नहीं चाहते. मुसलमानों को सबसे ज्यादा घर किसने दिए? ये चाहते हैं कि गरीब तड़पकर मर जाएं. ये देश, प्रदेश को बर्बाद कर लूटने वाले हैं.'' उन्होंने कहा कि ''56 इंच का सीना 57 इंच का हो सकता है 55 इंच का कभी नहीं हो सकता.''

VIDEO : केरल के राज्यपाल ने कहा- नागरिकता राज्य का मसला नहीं


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com