"दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री का दावा,महामारी का दौर खत्म हो रहा," लेकिन विशेषज्ञों ने दिया ये जवाब

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) ने कहा है कि राजधानी में महामारी का दौर खात्मे की ओर है. जबकि केंद्र ने जिन 8 राज्यों को मामले बढ़ने के कारण सतर्कता बरतने को कहा है, उनमें दिल्ली भी शामिल है. 

Satyendar Jain ने कहा कि अब बीमारी का दायरा सीमित हो रहा है

नई दिल्ली:

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Delhi Health Minister Satyendar Jain) ने कहा कि कोविड-19 की महामारी (pandemic) का दौर खात्मे की ओर है और अब यह एंडेमिक (endemic) फेज यानी यह स्थानीय स्तर पर दायरे में सीमित हो रही है. हालांकि जैन का यह बयान ऐसे वक्त आय़ा है, जब दिल्ली में रोजाना मिलने वाले मामले मामूली रूप से बढ़ रहे हैं.

जैन ने कहा, हमारा मानना है कि पैंडेमिक (वैश्विक स्तर पर महामारी का प्रसार) का दौर खत्म हो रहा है और अब यह एंडेमिक ( स्थानीय स्तर पर कम जोखिम वाली बीमारी) चरण में आ रही है. एंडेमिक फेज में बीमारी किसी विशेष क्षेत्र तक सीमित रहती है. एंडेमिक फेज में बीमारी स्थिर दिखती है, लेकिन किसी आबादी से पूरी तरह गायब नहीं हो जाती है.

जैन ने कहा, जैसे एच1एन1 या स्वाइन फ्लू है, जो दिल्ली में 8 से 10 साल पहले आई थी, लिहाजा यह एंडेमिक है, जो हर साल आती है, लेकिन बेहद कम मामले सामने आते हैं. इसी तरह हम यह तो नहीं कह सकते कि कोविड-19 की बीमारी पूरी तरह खत्म हो गई है, लेकिन थोड़े-बहुत मामले बने रहेंगे. हालांकि केंद्र ने जिन 8 राज्यों को मामले बढ़ने के कारण सतर्कता बरतने को कहा है, उनमें दिल्ली भी शामिल है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भारत की शीर्ष मेडिकल संस्था ने भी सतर्कता बरतने को कहा है, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA)  के अध्यक्ष डॉ. जेए जयलाल ने NDTV से कहा, मेरा मत भिन्न है, यह पैंडेमिक है या एंडेमिक, इसका निर्णय वैज्ञानिक संस्थानों को करना चाहिए, जैसे विश्व स्वास्थ्य संगठन या इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR). यह राजनीतिक या सरकार का निर्णय नहीं हो सकता और हम कोरोना वायरल के खिलाफ लड़ाई में ढिलाई नहीं बरत सकते. यह बेहद भयानक हो सकता है.