RSS में बड़ा फेरबदल, भैयाजी जोशी की जगह लेंगे दत्तात्रेय होसबले, अंग्रेजी में हैं M.A.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रचारिणी सभा के दूसरे और अंतिम दिन चुनावों के बाद दत्तात्रेय होसबले को नए सरकार्यवाह के रूप में चुना गया. होसबले कर्नाटक के शिमोगा जिले के मूलनिवासी हैं.  वह 1968 में आरएसएस में शामिल हुए थे.

RSS में बड़ा फेरबदल, भैयाजी जोशी की जगह लेंगे दत्तात्रेय होसबले, अंग्रेजी में हैं M.A.

1 दिसंबर 1954 को जन्मे दत्तात्रेय की प्रारंभिक और स्कूली शिक्षा गांव में ही हुई.

खास बातें

  • दत्तात्रेय होसबाले बने RSS के नए सरकार्यवाह, पहले थे सह-सरकार्यवाह
  • 2009 से सरकार्यवाह भैयाजी जोशी की लेंगे जगह
  • कर्नाटक के शिमोगा जिले के मूलनिवासी हैं. संघ में दत्ताजी नाम से हैं मशहूर
बेंगलुरु:

बेंगलुरु में चल रही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक में दत्तात्रेय होसबले (Dattatreya Hosabale) को संघ का नया सरकार्यवाह (महासचिव) चुना गया है. वो भैयाजी जोशी की जगह लेंगे. सुरेश भैय्याजी जोशी वर्ष 2009 से संघ के सबसे महत्वपूर्ण सरकार्यवाह का पद संभाल रहे थे,जबकि दत्तात्रेय सह सरकार्यवाह की जिम्मेदारी संभाल रहे थे. 

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रचारिणी सभा के दूसरे और अंतिम दिन चुनावों के बाद दत्तात्रेय होसबले को नए सरकार्यवाह के रूप में चुना गया. होसबले कर्नाटक के शिमोगा जिले के मूलनिवासी हैं. वह 1968 में आरएसएस में शामिल हुए थे. देश में लगी इमरजेंसी के दौरान उन्हें गिरफ्तार किया गया था.

दत्तात्रेय ने असम में युवा विकास केंद्र की स्थापना और विकास में बड़ी भूमिका निभाई है. संघ में वो दत्ता जी के नाम से लोकप्रिय हैं. कर्नाटक के शिमोगा जिले के सोरबा तालुक के एक छोटे से गाँव होसबले के रहने वाले हैं. उनकी पारिवारिक पृष्ठभूमि भी RSS से जुड़ी रही है. इससे खुश होकर, उन्होंने 1968 में RSS और फिर 1972 में छात्र संगठन ABVP ज्वाइन किया. वह 1978 में ABVP के पूर्णकालिक कार्यकर्ता भी बने. 15 साल तक अपने मुम्बई मुख्यालय में ABVP के महासचिव भी रहे.

संघ की बदली सोच? आरएसएस के दत्तात्रेय ने किया ट्वीट- 'होमोसेक्सुएलिटी अपराध नहीं है'

1 दिसंबर 1954 को जन्मे दत्तात्रेय की प्रारंभिक और स्कूली शिक्षा गांव में ही हुई. कॉलेज में उच्च शिक्षा ग्रहण करने के लिए वो बेंगलुरु गए थे, जहां उन्होंने प्रसिद्ध नेशनल कॉलेज में दाखिला लिया. उन्होंने अंग्रेजी साहित्य में मैसूरू यूनिवर्सिटी से स्नातकोत्तर डिग्री ली है. सत्रकारिता में भी उनकी रूचि रही है. वह कन्नड़ की मासिक पत्रिका 'असीमा' के संस्थापक संपादक रहे हैं.


अमित शाह के 7 सवाल पर केरल CM ने की सवालों की बौछार, पूछा- स्मगलरों से RSS का क्या रिश्ता?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दत्तात्रेय की सरकार्यवाह पद पर नियुक्ति के बाद माना जा रहा है कि संघ में शीर्ष में कई पदों पर भी बदलाव हो सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक दूसरे सह सरकार्यवाह सुरेश सोनी भी स्वास्थ्य कारणों से पद छोड़ सकते हैं. संघ में फिलहाल छह सह सरकार्यवाह कार्यरत हैं.