Pfizer कोरोना वैक्सीन 5 से 11 साल तक के बच्चों के लिए सुरक्षित : क्‍लीनिकल ट्रायल रिजल्‍ट

Pfizer और BioNTech ने कहा है कि क्‍लीनिकल ट्रायल रिजल्‍ट से पता चला है कि उनका कोरोना वैक्‍सीन पांच से 11 साल तक के बच्‍चों के लिए पूरी तरह सुरक्षित है और इससे बच्‍चों में इम्‍युनिटी बढ़ी है. कंपनियों ने कहा कि वे जल्‍द ही वैक्‍सीन के लिए मंजूरी की मांग नियामक संस्‍था के समक्ष करेंगे. 

फ्रेंकपर्ट (जर्मनी):

Pfizer और BioNTech ने कहा है कि क्‍लीनिकल ट्रायल रिजल्‍ट से पता चला है कि उनका कोरोना वैक्‍सीन पांच से 11 साल तक के बच्‍चों के लिए पूरी तरह सुरक्षित है और इससे बच्‍चों में इम्‍युनिटी बढ़ी है. कंपनियों ने कहा कि वे जल्‍द ही वैक्‍सीन के लिए मंजूरी की मांग नियामक संस्‍था के समक्ष करेंगे. कंपनी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि 12 वर्ष या इससे अधिक उम्र की तुलना में इस वैक्‍सीन की अपेक्षाकृत कम डोज बच्‍चों को दी जाएगी. कंपनी ने कहा है कि वे यूरोपीय यूनियन, अमेरिका और विश्‍व में अपना डाटा जल्‍द से जल्द नियामक संस्‍था के सामने पेश करेंगे.


गौरतलब है कि Pfizer और Moderna पहले से ही दुनियाभर के देशों 12 वर्ष से अधिक उम्र के किशारों और वयस्‍कों को लगाए जा रहे हैं. हालांकि बच्‍चों में गंभीर कोविड का बेहद कम जोखिम माना जाता है लेकिन हाल के समय में कोरोनावायरस के अत्‍यधिक संक्रामक डेल्‍टा वेरिएंट ने चिंताएं बढ़ाई हैं. बच्‍चों के टीकाकरण को स्‍कूलों को खोलने और इनमें महामारी को नियंत्रित करने के लिहाज से अहम माना जा रहा है. Pfizer के सीईओ अल्‍बर्ट बोर्ला ने कहा, 'हम इस युवा आबादी के लिए वैक्‍सीन के संरक्षण का दायरा बनाने के लिए बेताब है. जुलाई माह से बच्‍चों में कोविड-19 के केसों में करीब 240 फीसदी का इजाफा हुआ है. '

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com