'सपा के साथ मतभेद, लेकिन BJP तो भयावह है', सलमान खुर्शीद ने दिए चुनाव बाद गठजोड़ के संकेत

समाचार एजेंसी ANI से बात करते हुए खुर्शीद ने कहा, "समाजवादी पार्टी के साथ हमारे बहुत अच्छे संबंध नहीं हैं क्योंकि हमारे बीच गहरे वैचारिक मतभेद हैं. लेकिन बड़े फ्रेमवर्क पर हम बीजेपी को सत्ता से बाहर करना पसंद करेंगे क्योंकि वा बेहद भयावह है."

'सपा के साथ मतभेद, लेकिन BJP तो भयावह है', सलमान खुर्शीद ने दिए चुनाव बाद गठजोड़ के संकेत

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने चुनाव बाद सपा से गठजोड़ के संकेत दिए हैं.

नई दिल्ली:

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद (Salman Khurshid) ने मंगलवार को कहा कि समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के साथ कांग्रेस के गहरे वैचारिक मुद्दे हैं. फिर भी कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) को सत्ता से बेदखल करना पसंद करेगी "क्योंकि वह बेहद भयावह है."

समाचार एजेंसी ANI से बात करते हुए खुर्शीद ने कहा, "समाजवादी पार्टी के साथ हमारे बहुत अच्छे संबंध नहीं हैं क्योंकि हमारे बीच गहरे वैचारिक मतभेद हैं. लेकिन बड़े फ्रेमवर्क पर हम बीजेपी को सत्ता से बाहर करना पसंद करेंगे क्योंकि वा बेहद भयावह है."

उत्तर प्रदेश में चौथे चरण के चुनाव के मतदान के बीच सलमान खुर्शीद की यह टिप्पणी त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति में राज्य में चुनाव बाद के गठबंधन की दिशा में कांग्रेस की रणनीति का संकेत देती है.

UP Election: BJP को ख़त्म करना होगा अपना 'Hate जिहाद', हमारे पास 'लव जिहाद' जैसी चीज़ों की जगह नहीं, NDTV से सलमान खुर्शीद

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के चुनाव प्रचार पर खुर्शीद ने कहा, "हम राज्य में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए जोरदार तरीके से चुनाव लड़ रहे हैं. हालांकि, हमें वाड्रा द्वारा बनाई गई अभिनव रणनीतियों के प्रभाव को देखने के लिए अभी इंतजार करने की जरूरत है. आज नहीं तो कल वह राजनीति यूपी का चेहरा बदलने वाली हैं."

बुधवार को चौथे चरण के मतदान के बाद यूपी में राज्य की करीब 58 फीसदी सीटों पर चुनाव संपन्न हो जाएंगे. एसपी और बीजेपी दोनों ने राज्य में सरकार बनाने का भरोसा जताया है. वाड्रा ने प्रचार अभियान के दौरान कहा है कि कांग्रेस को जोर उन मुद्दों पर है जो लोगों के लिए तत्काल चिंता का विषय हैं.

चुनावों के दौरान हिजाब विवाद, समान नागरिक संहिता जैसे मुद्दे उठाकर बीजेपी ध्रुवीकरण का प्रयास कर रही है : सलमान खुर्शीद

चौथे चरण के मतदान में आज पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, हरदोई, उन्नाव, लखनऊ, रायबरेली, बांदा और फतेहपुर जिले के 59 विधानसभा क्षेत्रों में 624 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है.  राज्य में शेष चरणों में 27 फरवरी, 3 मार्च और 7 मार्च को मतदान होगा. मतों की गिनती 10 मार्च को की जाएगी.

वीडियो: UP Elections 2022: चौथे चरण के मतदान के बीच क्या है यूपी का चुनावी समीकरण; बता रहे हैं एक्सपर्ट्स

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com